Follow us:-
  • By
  • September 10, 2016
  • No Comments

जेसीडी विद्यापीठ में तीन दिवसीय प्रतिभा खोज ऑडिशन का समापन

तीन दिनों में 500 से अधिक विद्यार्थियों द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों में मनवाया गया अपनी प्रतिभा का लोहा, शीघ्र ही घोषित किए जाएंगे प्रतियोगिताओं के परिणाम  
सिरसा 10 सितम्बर, 2016 : जेसीडी विद्यापीठ में तीन दिनों से चल रहे कलात्मक गतिवधियों पर आधारित कार्यक्रम प्रतिभा खोज ऑडिशन का शनिवार को विधिवत् समापन हुआ। इस कार्यक्रम का विभिन्न कॉलेजों में निर्धारित किए गए स्थानों पर विद्यार्थियों द्वारा अनुशासित माहौल में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया गया। इस प्रतिभा खोज कार्यक्रम के समापन अवसर पर जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंधन समन्वयक इंजी. आकाश चावला व विद्यापीठ के रजिस्ट्रार श्री सुधांशु गुप्ता सहित जेसीडी के सभी कॉलेजों के प्राचार्यगण डॉ. विनय लाठर, डॉ. जयप्रकाश, डॉ. प्रदीप स्नेही, डॉ. हिमांशु मोंगा, इंजी. आर.एस. बराड़ सहित अनेक अन्य अधिकारीगण एवं गणमान्य लोग विशेष रूप से उपस्थित रहे। इस तीन दिवसीय प्रतिभा खोज कार्यक्रम में विद्यार्थियों द्वारा विभिन्न प्रतियोगिताएं जैसे एकल नृत्य, समूह नृत्य, एकल गायन, समूहगान, पेंटिंग, कॉर्टून मेकिंग, पोस्टर मेकिंग, रंगोली बनाओ, क्ले मॉडलिंग, भाषण प्रतियोगिता, कविता-पाठ, वाद्ययंत्र प्रतियोगिता, वन-एक्ट-प्ले, स्किट, नाटक मंचन, माईम, मिमिक्री, मोनोएक्टिंग, कोरियोग्राफी, वाद-विवाद प्रतियोगिता एवं एंकरिंग इत्यादि में 500 से अधिक प्रतिभागियों द्वारा हिस्सा लेकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया गया। इस सांस्कृतिक कार्यक्रम समापन अवसर पर विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए इंजी. आकाश चावला ने सर्वप्रथम विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत की गई विभिन्न प्रतिभाओं की सराहना की। उन्होंने कहा कि चौ. देवीलाल जी ने स्वप्र देखा था कि सिरसा जैसे शिक्षा में पिछड़े बच्चों का सर्वागीण विकास हो तथा उनकी भी अलग पहचान कायम हो सके, उनके इसी सपने को साकार करने के लिए हम सभी लगे हुए हैं। इंजी. चावला ने कहा कि प्रतिभा के प्रदर्शन से जहां विद्यार्थियों ने अपनी बेहतरीनता प्रदर्शित की है, वहीं इनको प्रत्येक क्षेत्र जैसे खेल व शिक्षा में भी अच्छे परिणाम लाकर अपने संस्थान के साथ-साथ जिला का भी नाम रोशन करना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे अपनी शिक्षा एवं अन्य गतिविधियों के प्रति निष्ठावान बनकर ईमानदारीपूर्वक मेहनत व लग्र से कार्य करना चाहिए ताकि उनको सफलता हासिल हो सके। इंजी. चावला ने कहा कि अगर हम किसी भी गतिविधि में हिस्सा लेते हैं तो जरूरी नहीं की हमें पहली बार में ही सफलता हासिल हो सके सफल होने के लिए प्रत्येक को निरंतर प्रयास करना चाहिए तभी यह संभव हो सकता है।
इन प्रतियोगिताओं में जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न स्थानों पर आयोजित की गई तीन दिवसीय प्रतियोगिताओं में जेसीडी में स्थापित इंजीनियरिंग, डेन्टल, फार्मेसी, शिक्षण महाविद्यालय, आईबीएम, मैमोरियल एवं बहुतकनीकी संस्थानों के विद्यार्थियों द्वारा अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया गया। इन कार्यक्रमों में भंगड़ा, गिद्दा, संगीत गायन एवं वादन के अलावा  विद्यार्थियों द्वारा कविता पठन, भाषण प्रतियोगिता, निबंध लेखन एवं वाद-विवाद प्रतियोगिताओं में नशा, भारत माता, सैनिक, कैदी की भावना, नन्हीं बच्ची, प्रेम, नारी की वर्तमान स्थिति एवं अनेक वर्तमान में व्याप्त मुद्दों पर अपने विचार सांझा किए गए, इसमें भाषण प्रतियोगिता में विद्यार्थियों ने आतंकवाद, बेरोजगारी इत्यादि मुद्दों पर मार्मिक संवेदनाएं प्रस्तुत की गई। वहीं वर्तमान में खिलाडिय़ों द्वारा खेल प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन करने पर उनको मिली सफलता बारे भी गहन मंथन एवं जानकारी प्रदान की गई। इस समापन अवसर पर संस्थान के अन्य कॉलेजों के प्राचार्यों सहित अनेक गणमान्य लोग एवं समस्त स्टाफ सदस्य व विद्यार्थीगण भी मौजूद रहे।