Celebration of Republic day at JCD Vidyapeeth, Sirsa

जेसीडी विद्यापीठ में हर्षोल्लास से मनाया गया 72वां गणतन्त्र दिवस
अधिकारियों, कर्मचारियों व अन्य स्टॉफ सदस्यों ने किया तिरंगे को नमन्, गूंजे वन्दे मातरम् के नारे

सिरसा 26 जनवरी, 2021 : जेसीडी विद्यापीठ में 72वें गणतन्त्र दिवस के उपलक्ष्य में ध्वजारोहण करके हर्षोल्लास से मनाया गया, जिसमें जेसीडी मैमोरियल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. जयप्रकाश द्वारा कार्यक्रम की अध्यक्षता की गई। इस मौके पर उनके साथ जेसीडी आईबीएम कॉलेज के प्राचार्य डॉ. कुलदीप सिंह एवं जेसीडी विद्यापीठ के रजिस्ट्रार सुधांशु गुप्ता, खेल अधिकारी अमरीक सिंह, सुरक्षा अधिकारी जसवंत सिंह, डॉ. विजनेश, डॉ. रमेश शर्मा, डॉ. गौरव खुराना, डॉ. आशीष खुराना, मि. ललित गिरधर सहित अन्य कॉलेजों के विभागाध्यक्ष, प्राध्यापकगण एवं सफाई कर्मचारी, सुरक्षा कर्मचारी व अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे। इस अवसर पर सभी ने तिरंगे को सेल्यूट करके सलामी दी। वहीं इस कार्यक्रम में ध्वजारोहण जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों में टॉप रहने वाली छात्राओं के साथ-साथ नन्हें-नन्हें बच्चों द्वारा किया गया। कार्यक्रम का मंच संचालन शिक्षण महाविद्यालय के प्रोफेसर डॉ. राजेन्द्र कुमार द्वारा किया गया।

अपने संबोधन में डॉ. जयप्रकाश ने सभी को जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ. शमीम शर्मा व जेसीडी विद्यापीठ परिवार की ओर से गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की व देशहित के लिए कार्य करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हमारा देश के प्रति जो कर्तव्य बनता है हमें उसका निर्वहन पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से करना चाहिए ताकि देश के प्रति हमारी जिम्मेवारी निभाई जा सके। डॉ. जयप्रकाश ने कहा कि हमें  हमारे क्रांतीकारी वीरों एवं शहीदों द्वारा दिए गए बलिदान को सदैव स्मरण रखना चाहिए क्योंकि हमें इस आजादी में जीने के लिए अनेक लोगों ने अपने प्राणों की आहुति दी है। उन्होंने जेसीडी विद्यापीठ के बारे में कहा कि यह हमारा एक परिवार है तथा परिवार के सभी लोगों की आपस में एक जिम्मेवारी बनती है, जिसे सभी को पुरी निष्ठा एवं ईमानदारी के साथ निभाना चाहिए ताकि परिवार को मजबूती प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि किसी भी काम में अगर कर्तव्यनिष्ठा, ईमानदारी, कर्मठता, लगन, सेवाभाव, सौहार्द इत्यादि गुणों को ध्यान में रखते हुए किया जाए तो उसमें सफलता अवश्य मिलती है। उन्होंने अपने संबोधन में भारतीय संविधान के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए भारतीय संविधान की रक्षा करने का भी आह्वान किया।

कार्यक्रम के अंत में डॉ. राजेन्द्र कुमार द्वारा अपने धन्यवादी अभिभाषण में सभी की देशभक्ति को सलाम करते हुए कहा कि देश के प्रति अपने कर्तव्यों एवं भक्ति को सदैव जीवंत रखकर देशहित में कार्य करना चाहिए ताकि हमारा भारत मजबूत हो सके। इस अवसर पर सभी उपस्थित जनों द्वारा राष्ट्रगान के माध्यम से तिरंगे को सलामी देते हुए अपनी देश के प्रति निष्ठा का प्रदर्शन किया गया। वहीं इस मौके पर सभी लोगों को लड्डू बांटकर इस पावन पर्व की बधाईयां प्रेषित की गई।

JCDV Quiz