Follow us:-
Chhabil on Nirjala Ekadashi
  • By Davinder Sidhu
  • June 19, 2024
  • No Comments

Chhabil on Nirjala Ekadashi

समुदाय सेवा जीवन की है आधारशिला : प्रोफेसर ढींडसा
**जेसीडी विद्यापीठ में निर्जला एकादशी पर गन्ने के जूस की छबील का आयोजन**

सिरसा, 18 जून 2024: जेसीडी विद्यापीठ में निर्जला एकादशी के शुभ अवसर पर गन्ने के जूस की विशेष छबील का आयोजन किया गया। इस आयोजन में सैकड़ों श्रद्धालुओं ने भाग लिया और ताजगी से भरपूर गन्ने के जूस का प्रसाद ग्रहण किया। इस पवित्र अवसर के मुख्य अतिथि जेसीडी विद्यापीठ के महा निदेशक एवं अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वैज्ञानिक प्रोफेसर डॉक्टर कुलदीप सिंह ढींडसा थे।

प्रोफेसर ढींडसा ने इस अवसर पर छबील का उद्घाटन किया और उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया। उन्होंने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा, “निर्जला एकादशी का पर्व हमारे धार्मिक और सांस्कृतिक जीवन में अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान रखता है। यह दिन हमें जल और जीवन के प्रति आभार व्यक्त करने का अवसर प्रदान करता है। गन्ने के जूस की छबील लगाकर हम न केवल अपनी संस्कृति का पालन करते हैं बल्कि समाज में भाईचारे और सेवा भावना को भी प्रोत्साहित करते हैं। उन्होनें कहा कि समुदाय सेवा जीवन की आधारशिला है । ये हमें एकजुटरखती है, संसाधनों का सम्मान सिखाती है , और समृद्धि को बढ़ावा देती है।

कार्यक्रम की शुरुआत सुबह 9 बजे हुई, जहां विद्यापीठ के छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों ने मिलकर छबील का आयोजन किया। छबील में ताजगी और मिठास से भरपूर गन्ने के जूस का वितरण किया गया, जिसका आनंद सभी उपस्थित लोगों ने उठाया। इस अवसर पर सभी ने एकजुट होकर सेवा का आदान-प्रदान किया और समाज के प्रति अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया।

डॉ. ढींडसा ने छबील के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा, “आज के दिन हमें याद दिलाता है कि जल और अन्य प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण और उनका सही उपयोग कितना महत्वपूर्ण है। गन्ने का जूस न केवल पौष्टिक है बल्कि इस गर्मी में शरीर को ठंडक और ताजगी भी प्रदान करता है। इस तरह के आयोजन हमें इन अनमोल संसाधनों के प्रति सम्मान और संरक्षण की प्रेरणा देते हैं।”

इस आयोजन में विशेष रूप से विद्यापीठ के एडमिन ब्लॉक से प्रमोद ,त्रिभुवन शर्मा, संजय वर्मा , नरेंद्र , निर्मल, विक्रम के अलावा अन्य स्टाफ ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कुलसचिव डॉक्टर सुधांशु गुप्ता ने कहा, “इस प्रकार के आयोजनों से हमें समाज सेवा का महत्व समझ में आता है और हम सभी को इससे बहुत कुछ सीखने को मिलता है। हम डॉक्टर ढींडसा के प्रति आभार व्यक्त करते हैं, जिन्होंने हमें इस अवसर पर सेवा करने का मौका दिया।”

जेसीडी विद्यापीठ के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों और प्राध्यापकों ने भी छबील में अपनी भागीदारी सुनिश्चित की और सभी ने मिलकर इस पावन दिन को विशेष बनाया और समाज में सकारात्मक संदेश फैलाया।

इस आयोजन के अंत में प्रोफेसर डॉक्टर कुलदीप सिंह ढींडसा ने सभी उपस्थित लोगों का धन्यवाद किया और भविष्य में भी इसी प्रकार के सामुदायिक सेवा कार्यक्रमों के आयोजन का संकल्प व्यक्त किया। उन्होंने कहा, “हमारा लक्ष्य केवल शैक्षणिक उत्कृष्टता तक सीमित नहीं है, बल्कि हम समाज सेवा और सामुदायिक विकास में भी योगदान देना चाहते हैं। इस तरह के आयोजनों से हम समाज में सकारात्मक बदलाव लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।”

× How can I help you?