Follow us:-
Inter College Volleyball Match – JCD Vidyapeeth, Sirsa
  • By
  • February 6, 2021
  • No Comments

Inter College Volleyball Match – JCD Vidyapeeth, Sirsa

जेसीडी विद्यापीठ में अंत:महाविद्यालय बॉस्केटबॉल मैच आयोजित
फाइनल मुकाबलों में पुरूषों में जेसीडी मैमोरियल कॉलेज तथा महिलाओं के मुकाबलों में जेसीडी डेन्टल कॉलेज की टीम बनी विजेता

सिरसा 5 फरवरी, 2021 : जेसीडी विद्यापीठ में विगत दिवस अंत:महाविद्यालय बॉस्केटबॉल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें संस्थान के सभी कॉलेजों के छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ कर हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम में जेसीडी विद्यापीठ की प्रंबध निदेशक डॉ. शमीम शर्मा ने बतौर मुख्यातिथि विद्यार्थियों की हौंसलाफजाई की। इस मौके पर डेन्टल कॉलेज के निदेशक डॉ. राजेश्वर चावला सहित विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्य डॉ. अरिन्दम सरकार, डॉ. जयप्रकाश, डॉ. कुलदीप सिंह, डॉ. दिनेश गुप्ता, डॉ. अनुपमा सेतिया, डॉ. शिखा गोयल, डॉ. राजेन्द्र कुमार के अलावा अनेक अन्य गणमान्य एवं खिलाड़ी मौजूद रहे। इस मैच का आयोजन जेसीडी विद्यापीठ के खेल अधिकारी डॉ. अमरीक सिंह, जेसीडीएनसीए के कोच महावीर सिंह व फिजिकल एजूकेशन की शिक्षिका मिस. वीनू की देखरेख में आयोजित किया गया था। इस मौके पर सभी खिलाडिय़ों में जोश एवं उत्साह देखने लायक था।

इस अवसर पर डॉ. अमरीक सिंह गिल ने मुख्यातिथि महोदया व अन्य प्राचार्यों व अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि प्रत्येक खिलाड़ी को किसी भी खेल को खेल भावना, मेहनत तथा ईमानदारी के साथ खेलना चाहिए तथा हार-जीत का अंतर को भूलाकर प्रयास करना चाहिए।

बतौर मुख्यातिथि डॉ. शमीम शर्मा ने विद्यार्थियों को अपने संबोधन में कहा कि हमें शरीर को ऊर्जा एवं स्फूर्ति प्रदान करने के लिए किसी न किसी खेल में अवश्य हिस्सा लेना चाहिए क्योंकि इससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है तथा किसी ने ठीक ही कहा है कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है, इसलिए प्रत्येक विद्यार्थी को किसी न किसी खेल को अवश्य अपनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जेसीडी विद्यापीठ केवल विद्यार्थियों को अनुशासित शिक्षा ही नहीं अपितु खेल, सांस्कृतिक एवं अन्य गतिविधियों में भी शामिल करके उनका सर्वांगीण विकास की ओर ध्यान देता है। डॉ. शर्मा ने कहा कि खेलों से आपसी भाईचारा एवं सौहार्द की वृद्धि तो होती ही है, वहीं इसमें विद्यार्थी को प्रत्येक कठिनाईयों का सामना एकाग्रचित होकर करने का भी ज्ञान प्राप्त होता है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी जीवन संघर्षशील है, इसलिए आज के प्रतिस्पर्धात्मक युग में अगर सफलता हासिल करनी है तो कड़ी मेहनत करना अतिआवश्यक है। उन्होंने कहा कि सफलता मेहनत करने से ही हासिल होती है तथा बॉस्केटबॉल एक ऐसा खेल है जिसमें सम्पूर्ण शरीर सहित मस्तिष्क का भी बेहतर प्रयोग करके ही लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है तथा इससे विद्यार्थियों को बेहतर निर्णय लेने एवं कुशाग्र बुद्धि के गुणों का विकास होता है। उन्होंने विजेता टीमों को बधाई प्रेषित की तथा शिक्षा के साथ-साथ प्रत्येक क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने का प्रयास करने का आह्वान भी किया।

इस सम्पूर्ण प्रतियोगिता के पुरूषों का फाइनल मुकाबला जेसीडी मैमोरियल तथा डेन्टल कॉलेज के मध्य खेला गया, जिसमें मैमोरियल कॉलेज की टीम ने 51 स्कोर अर्जित करके प्रथम तथा डेन्टल कॉलेज ने 21 स्कोर अर्जित करके द्वितीय स्थान हासिल किया। वहीं दूसरी तरफ महिलाओं के मैच में फाइनल मुकाबला जेसीडी डेन्टल तथा जेसीडी बीएड कॉलेज की टीमों के मध्य खेला गया, जिसमें डेन्टल की टीम ने 31 स्कोर अर्जित करके प्रथम तथा बीएड कॉलेज की टीम ने 11 स्कोर अर्जित करके द्वितीय स्थान हासिल किया। इसके अंत में सभी विजेता टीमों को मुख्यातिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा ट्राफी प्रदान करके सम्मानित किया गया।