M.Sc. Students Farewell Party – JCD Memorial College

M.Sc. Farewell Party ‘Rakshat-2018’ was organized by M.Sc. Students. Student’s talents were honored by the MLAs of Kalanwali and Rania at JCDV, Sirsa

जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित मैमोरियल कॉलेज के एमएससी फिजिक्स, कैमेस्ट्री, बोटनी, जोलॉजी और मैथ विद्यार्थियों ने अपने सीनियर्स को अलविदा कहने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम रूख्शत-2018 का आयोजन किया गया, जिसमें कालांवाली के विधायक स.बलकौर सिंह एवं रानियां से विधायक श्री रामचंद्र कंबोज द्वारा बतौर मुख्यातिथि उपस्थित होकर विद्यार्थियों की हौंसला अफजाई की गई। वहीं इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंधन समन्वयक इंजि. आकाश चावला द्वारा की गई। इस सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यातिथि महोदय, अन्य अधिकारीगण एवं कॉलेज के प्राचार्य डॉ.प्रदीप स्नेही व अन्य अतिथिगणों द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित करके किया गया। इस कार्यक्रम का सफलतम मंच संचालन छात्रा मोनिका, साक्षी और मेगा द्वारा किया गया। इस मौके पर जेसीडी विद्यापीठ के रजिस्ट्रार श्री सुधांशु गुप्ता के अलावा विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्यगण, अधिकारीगण एवं अन्य गणमान्य लोग भी मौजूद रहे।

इस सांस्कृतिक आयोजन में एमएससी की मोनिका ने ‘कुदरत ने खेल रचाया सी जदो रब ने अपना मेल कराया सी’ गीत गाकर अपनी मधुर आवाज का जादू चलाकर सभी को मंत्रमुग्ध किया। वहीं छात्रा हरमन एवं छात्र नवीन ने वेस्टर्न नृत्य की प्रस्तुति देकर खूब वाहवाही लूटी। उधर रमनप्रीत एण्ड ग्रुप ने पंजाबी सभ्यता की प्रस्तुति देता भंगड़ा के माध्यम से सभी को अपने संग झूमने पर विवश किया। हरियाणवीं सभ्यता की प्रस्तुति देते हुए मेगा एण्ड ग्रुप ने हरियाणवीं ‘तागड़ी’ गीत पर बेहतर नृत्य की प्रस्तुति देकर सभी का मन मोहा। वहीं अन्य विद्यार्थियों ने भी अपनी प्रतिभा प्रदर्शन किया।

बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में विधायक रामचन्द्र कम्बोज ने विद्यार्थियों से कहा कि कॉलेज के अंतिम दिनों का समय बड़ा पीड़ादायक अवश्य होता है क्योंकि विद्यार्थी अपने संस्थान से दिल से जुड़ा होता है परंतु मंजिल को पाने के लिए राहगीर यानि विद्यार्थियों को अपनी पहला पड़ाव छोडऩा ही पड़ता है इसलिए विद्यार्थी आशापूर्ण अपनी मंजिल की ओर अग्रसर हों। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को अपना आशीर्वाद प्रदान करते हुए कहा कि जब आपको विद्या के मन्दिर को छोड़ कर जाना होता है तो मन में दुख और चेहरे पर उदासी होती है लेकिन इस बात की खुशी भी होती है कि यहां से शिक्षा प्राप्त करके आप समाज की चुनौतियों से जूझने हेतु जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी जीवन ही सबसे बेहतर होता है इसलिए विद्यार्थी जब तक किसी संस्थान से जुड़ा होता है उसे अनुशासित रहकर अपनी प्रतिभा का बेहतर निखार करना चाहिए ताकि आगे चलकर वह कामयाब हो सके।

विदाई पाने वाले विद्यार्थियों को अपना आशीर्वाद प्रदान करते हुए विधायक स.बलकौर सिंह ने कहा कि कॉलेज के दिनों का यह पल सबसे खुबसूरत होता है तथा अपनी कॉलेज की पढाई पूर्ण करके समाज में कुछ कर गुजने के लिए विद्यार्थी पहला कदम बढाता है। उन्होंने इस मौके पर विद्यार्थियों को कहा कि आप जिस संस्थान में पढ़ रहे हैं वह एक महान शख्सियत चौ. देवीलाल जी के सपनों का संस्थान हैं, जिसे साकार रूप प्रदान उनके पौत्र डॉ.अजय सिंह चौटाला ने पूरा किया तथा उनका सम्पूर्ण परिवार ही सिरसा जैसे शिक्षा में पिछड़े इलाके में शिक्षा की अलख जगाने के लिए कृतसंकल्प हैं। स. बलकौर सिंह ने कहा कि आप इस विदाई समारोह से एक शपथ लेकर जाएं कि आप भी चौ.देवीलाल जी द्वारा दिखाएं गए जगहित के भलाई के मार्ग को अपनाकर एक बेहतर इंसान बनेंगे। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी सदैव देश का भविष्य निर्माता होता है तथा वह अपने सुकर्मों एवं बेहतर कार्यों से ही अपने माता-पिता, संस्थान, जिला ही नहीं अपितु राज्य सहित देश का नाम रोशन करने का कार्य करते हैं।

इस मौके पर अपने संबोधन में मुख्यातिथि का आभार प्रकट करते हुए इंजी.आकाश चावला ने कहा कि हमारा उद्देश्य हमारे विद्यार्थियों को बेहतर कल प्रदान करना है, जिसमें इस प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम भी अपनी अह्म भूमिका अदा करते हैं क्योंकि चौ.देवीलाल जी का स्वप्न था कि शिक्षा के साथ-साथ विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास हो ताकि वे प्रत्येक क्षेत्र में सक्षम बनकर अपने जिला व राज्य का नाम रोशन करें। उन्होंने कहा कि जेसीडी विद्यापीठ सदैव अपने विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा के साथ-साथ अन्य ज्ञान में प्रांगण करने के लिए प्रयास करता है ताकि वे कामयाबी हासिल कर सकें। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को अपनी शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामनाएं दी।

इस अवसर पर कॉलेज के प्राचार्य डॉ प्रदीप स्नेही ने आऐ हुए जनप्रतिधियों को धन्यवाद करते हुए कहा कि आज 16 वर्षों से अधिक का समय हो गया जब डॉ.अजय सिंह चौटाला जी द्वारा शिक्षा रूपी लगाया गया यह विद्यापीठ रूपी पौधा वट वृक्ष के समान फल-फूल रहा है तथा सिरसा एवं इसके आसपास के क्षेत्रों में ज्ञानरूपी छाया बिखेर रहा है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि हमारे विद्यार्थी अपनी ज्ञान की मसाल के माध्यम से अनेक लोगों के जीवन में उजियाला करने का काम करेंगे तथा देशहित में अपना अह्म योगदान प्रदान करेंगे। कार्यक्रम के अंत में प्राचार्य महोदय एवं अन्य द्वारा मुख्यातिथियों को स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया गया।

इस मौके पर जेसीडी मैमोरियल कॉलेज का समूचा स्टाफ, एमएससी के विभागाध्यक्ष, प्राध्यापकगण एवं सभी विद्यार्थीगण के अलावा अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे।

You may also like

Visit Us On TwitterVisit Us On FacebookVisit Us On Google PlusVisit Us On PinterestVisit Us On YoutubeVisit Us On LinkedinCheck Our FeedVisit Us On Instagram