One Day Seminar on National Science and Technology Day

Technical Activities held on ‘ National Science and Technology Day ‘ at JCDM Engineering College. Astrological role of science and technology for the future in future said by Dr. Rajesh Gupta

जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित इंजीनियरिंग कॉलेज तथा हरियाणा सरकार के विज्ञान व तकनीक विभाग के सौजन्य से राष्ट्रीय तकनीकी दिवस के अवसर पर इंटर कॉलेज विभिन्न प्रतियोगिताओं जैसे पोस्टर मेकिंग, वाद-विवाद व प्रोजेक्ट प्रदर्शनी इत्यादि के माध्यम से एक दिवसीय ‘सत्त भविष्य के लिए विज्ञान एवं तकनीकी की भूमिका’ विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया, जिसमें विद्यार्थियों ने तकनीकी, विज्ञान व नवीनता का समावेश करते हुए अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। इस अवसर पर महाराजा रणजीत सिंह पंजाब टेक्रिकल यूनिवर्सिटी, भटिण्डा के मैकेनिकल विभाग के प्रोफेसर डॉ.राजेश गुप्ता ने बतौर मुख्यातिथि एवं मुख्य वक्ता उपस्थित हुए। वहीं जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंधन समन्वयक इंजी.आकाश चावला ने बतौर विशिष्ट अतिथि शिरकत की। कार्यक्रम में पधारने पर मुख्यातिथि एवं अन्य अतिथियों का कॉलेज के प्राचार्य डॉ.दिनेश गुप्ता ने स्वागत किया। इस मौके पर उनके साथ जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्यगण, जेसीडी विद्यापीठ के रजिस्ट्रार महोदय व अन्य अधिकारीगण भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के समक्ष अतिथि महोदय एवं अन्य द्वारा दीप प्रज्ज्वलित करके किया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन इलैक्ट्रॉनिक विभगा की अध्यक्षा इंजी.वीना रानी, सिविल विभाग के अध्यक्ष इंजी.विक्रम व मैकेनिकल विभाग के सहायक प्रोफेेसर इंजी.तरूण आनंद की देखरेख में किया गया।

सर्वप्रथम कॉलेज के प्राचार्य डॉ.दिनेश गुप्ता ने समस्त अतिथियों एवं गणमान्य लोगों का स्वागत करते हुए कहा कि इस प्रकार के आयोजन से हमारा उद्देश्य हमारे विद्यार्थियों को बेहतर ज्ञान उपलब्ध करवाना है तथा इस मौके पर आयोजित इस सेमिनार एवं प्रतियोगिताओं से विद्यार्थियों को जहां विशेषज्ञों के माध्यम से उचित ज्ञान प्राप्त होगा, वहीं वे अपनी छुपी हुई प्रतिभा को जांच सकेंगे तथा ओर अधिक बेहतर कर पाएंगे। वहीं उन्होंने सभी को इस तकनीकी दिवस मनाने के प्रायोजन से भी अवगत करवाया।

इस कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि एवं मुख्य वक्ता अपने संबोधन में प्रोफेसर डॉ.राजेश गुप्ता ने अपने संबोधन में करते हुए कहा कि तकनीक जहां हमारी प्रगति के अवसर प्रदान करती है वहीं इसके दुष्परिणाम भी कम नहीं है इसलिए हमें प्रत्येक तकनीक को उसके अच्छे व बुरे दोनों पहलुओं को मध्येनजर रखते हुए ही उसका प्रयोग किया जाना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों को विज्ञान एवं तकनीक की भूमिका का महत्व बताते हुए कहा कि देश का सत्त भविष्य इस बात पर निर्भर करता है कि तकनीक व विज्ञान का लाभ सोसायटी के प्रत्येक व्यक्ति को मिले। किसी भी देश का विकास उसके नागरिकों के विकास पर ही आधारित होता है इसलिए विज्ञान व तकनीक पर आधारित सुविधाओं का उपयोग सभी मिलकर करें तभी कोई राष्ट्र तरक्की की राह पर अग्रसर हो सकता है। उन्होंने कहा कि नई तकनीक की खेल करते समय हमें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि प्राकृतिक संपदा को कम से कम क्षति हो या उसकी भरपाई के लिए सामूहिक तौर से प्रयास किए जाएं। डॉ. गुप्ता ने सभी विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य के लिए अपनी शुभकामनाएं एवं आशीर्वाद प्रदान करते हुए कैम्पस एवं संस्थान व विद्यार्थियों की प्रतिभाओं की भूरि-भूरि प्रशंसा की।

कार्यक्रम में आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं का अवलोकन करने उपरांत निर्णायक मण्डल द्वारा पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता में जेसीडी डेन्टल कॉलेज की तमन्ना अरोड़ा को प्रथम तथा इंजीनियरिंग की गार्गी को द्वितीय एवं डेन्टल की चाहत को तृतीय चयनित किया गया। वहीं वाद-विवाद प्रतियोगिता में जेसीडी इंजी. कॉलेज के ईसीई के कौशल किशोर, सीएसई की अलिशा व मैकेनिकल के योगेश को क्रमश: प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय चुना गया। वहीं प्रोजेक्ट प्रदर्शनी में बेहतर मॉडल प्रस्तुत करने वाले इलैक्ट्रिकल विभाग के बबलू व ग्रुप को प्रथम, कम्प्यूटर विभाग के ऐश्वरी कुमार व गु्रप को द्वितीय तथा मैकेनिकल व सिविल विभाग के पंकज एवं दिशाबल व गु्रप को संयुक्त रूप से तृतीय चयनित किया गया।

कार्यक्रम के अंत में सभी विजेता प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया। इस मौके पर जेसीडी इंजीनियरिंग कॉलेज डिप्टी रजिस्ट्रार एस.एल. सैनी के अलावा समस्त स्टाफ सदस्य एवं विद्यार्थीगण व अन्य अनेक गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे।

You may also like

  • ADMISSIONS OPEN

  • Visit Us On TwitterVisit Us On FacebookVisit Us On Google PlusVisit Us On PinterestVisit Us On YoutubeVisit Us On LinkedinCheck Our FeedVisit Us On Instagram