Or 01666-238105
Mon - Sat: 9:00AM - 5:00PM All Holidays and Saturday - Open

Valedictory Function of Pharmacy Week – JCD Pharmacy College, Sirsa

जेसीडी फार्मेसी कॉलेज में आयोजित राष्ट्रीय फार्मेसी सप्ताह का हुआ समापन
ग्लोबल वार्मिंग से बचने के लिए लगाएं अधिक से अधिक पेड़-पौधे : डॉ.रामजी

The National Pharmacy Week, at the JCDM College of Pharmacy, was duly concluded on Wednesday. Dr. Ramji Jaimal, a famous social worker made aware of the environment by appearing as the chief guest. The program was presided over by Dr. Shamim Sharma, Managing Director of JCD Vidyapeeth and Mrs. Gargi Phutela attended the closing ceremony as a special guest. On this occasion, the principal and other guests were welcomed by Dr. Anupama Setia, the college’s principal. During this three-day pharmacy week, students also took part in various games like carrom board, chess etc.

जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित फार्मेसी कॉलेज में आयोजित होने वाले राष्ट्रीय फार्मेसी सप्ताह का विधिवत् बुधवार को समापन हुआ, जिसमें प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ.रामजी जयमल द्वारा बतौर मुख्यातिथि उपस्थित होकर विद्यार्थियों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम शर्मा द्वारा की गई तथा समापन अवसर पर श्रीमती गार्गी फुटेला ने विशिष्ट अतिथि के तौर पर शिरकत की। इस मौके पर कॉलेज प्राचार्या डॉ.अनुपमा सेतिया द्वारा मुख्यातिथि एवं अन्य अतिथियों का स्वागत किया गया। इस तीन दिवसीय फार्मेसी सप्ताह के दौरान विद्यार्थियों द्वारा कैरम बोर्ड, शतरंज इत्यादि खेलों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया गया।

इस अवसर पर डॉ. शमीम शर्मा ने सर्वप्रथम डॉ.रामजी का पधारने पर स्वागत करते हुए उन्हें पौधा भेंट किया गया। उन्होंने अपने संबोधन में सभी विद्यार्थियों एवं उपस्थितजनों से मुख्यातिथि को अवगत करवाया गया। उन्होंने कहा कि पेड़-पौधे प्रेमी होने के साथ-साथ डॉ.रामजी ने पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के लिए अत्यधिक पेड़-पौधे लगाकर तथा उन्हें बचाकर अपना अह्म योगदान प्रदान किया है। डॉ.शर्मा ने बताया कि इन्होंने हजारों पौधे लोगों को अपने द्वारा प्रदान करके उन्हें पेड़ बनने तक उनकी संभाल करने के लिए भी उन्हें प्रेरित करने का महान कार्य किया है, जिसके चलते पेड़ लगाना इनका एक जुनून का रूप ले चुका है तथा यह कभी भी ऐसे अवसरों से स्वयं को वंचित नहीं रख सकते हैं।

बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में डॉ.रामजी ने सर्वप्रथम विद्यापीठ की प्रबंधन समिति तथा अन्य का इस आयोजन में उन्हें आमंत्रित करने के लिए धन्यवाद करते हुए कहा कि विद्यार्थियों को अपनी शिक्षा के दौरान तथा आस-पास में पेड़-पौधों को गोद लेकर उनकी देखभाल करनी चाहिए ताकि प्रकृति के प्रति वह अपने दायित्व एवं कर्तव्यों को निभा सकें। उन्होंने कहा कि पेड़ लगाकर ही हम दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे ग्लोबल वार्मिंग के खतरे को कम कर सकते हैं तथा अपने पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त कर सकते हैं इसीलिए स्वच्छ श्वांस प्राप्ति के लिए अधिक से अधिक पेड़-पौधे लगाकर उनकी देखभाल करनी चाहिए ताकि हमारा पर्यावरण स्वच्छ बन सकें।

इस मौके पर विशिष्ट अतिथि के तौर पर पधारी श्रीमती गार्गी फुटेला ने विद्यार्थियों को पाक कला के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान करते हुए कहा कि महिलाओं के लिए इस कला का बहुत ही महत्व है इसीलिए सभी छात्राओं को पूर्ण लगाव से कुकिंग सीखना चाहिए। उन्होंने इस अवसर पर सभी को केक बनाने की विधि सिखाई।

इस अवसर पर डॉ.प्रदीप कंबोज के अलावा जेसीडी फार्मेसी कॉलेज के स्टाफ सदस्य, प्राध्यापकगण एवं विद्यार्थियों के अलावा अनेक अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे। इस मौके पर विजेता विद्यार्थियों को मुख्यातिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत में मुख्यातिथि को स्मृति चिह्न प्रदान किया गया।