Follow us:-
Cricket Tournament by CDLU Valedictory Function – JCD Memorial College
  • By
  • November 10, 2016
  • No Comments

Cricket Tournament by CDLU Valedictory Function – JCD Memorial College

जेसीडी विद्यापीठ में चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के तत्वावधान में आयोजित दो दिवसीय क्रिकेट प्रतियोगिता का विधिवत् समापन
शाह सतनाम सिंह ब्वॉयज कॉलेज ने मारी बाजी, यूटीडी की टीम रही दूसरे स्थान पर

सिरसा 10 नवम्बर 2016 : जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित अंतर्राष्ट्रीय स्तर के क्रिकेट मैदान में मैमोरियल पी.जी. कॉलेज के द्वारा चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के तत्वावधान में दो दिवसीय अंत:महाविद्यालय क्रिकेट प्रतियोगिता का विधिवत समापन हुआ, जिसमें सी.डी.एल.यू. की स्पोर्टस काउंसिल की अध्यक्ष प्रो. मोनिका वर्मा बतौर मुख्यातिथि उपस्थित होकर प्रतिभागियों का मनोबल बढाया, इस मौके पर जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंधन समन्वयक इंजी.आकाश चावला, रजिस्ट्रार श्री सुधांशु गुप्ता, जेसीडी मैमोरियल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. प्रदीप स्नेही, इंजी. कॉलेज के प्राचार्य डॉ. हिमांशु मोंगा, चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के स्पोर्ट्स सचिव प्रो. ईश्वर मलिक, शिक्षण महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. जयप्रकाश, डा. जगदीश भादू, डा. विकास मैहता, डा. राजेश कस्वां, जेसीडी विद्यापीठ के स्पोर्टस अधिकारी अमरीक सिंह व क्रिकेट अकादमी के कोच श्री शंकर सैनी के अलावा अन्य विभिन्न कॉलेजों के कोच, विद्यार्थीगण एवं अन्य गणमान्य लोग भी मौजूद रहे।

इस अवसर पर बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में प्रो. मोनिका वर्मा ने कहा कि पढ़ोगे-लिखोगे तो बनोगे नवाब खेलोगे-कूदोगे तो होगे खराब कि कहावत को आज के युवाओं ने गलत साबित कर रहे हैं तथा प्रत्येक क्षेत्र में अपना बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं वर्तमान में माता-पिता भी ये समझा चुके हैं कि बच्चों के मानसिक विकास के साथ-साथ शारीरिक विकास भी मुख्य भूमिका अदा करता है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विद्यार्थी को खेलों में हिस्सा लेना चाहिए तथा अपना बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए।

इस अवसर पर मैमेरियल कॉलेज के प्राचार्य डा. प्रदीप स्नेेही ने इस अवसर पर पधारे विभिन्न संस्थानों के खिलाडियों एवं उनके साथ आए कोचों का स्वागत व अभिनन्दन किया। उन्होंने प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारा उद्देश्य केवल आपको खेलने का अवसर प्रदान करना ही नहीं बल्कि जीवन के मैदान में एक प्रभावी खिलाडी के रूप में परिपक्व बनाना भी है। व्यक्ति का सम्पूर्ण जीवन तन और मन रूपी गाडी से चलता है खेल और व्यायाम शारीरिक विकास करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। डा. स्नेही ने कहा कि जो पाठ शिक्षा नहीं सीखा पाती वह पाठ खेल का मैदान सिखा देता है।

इस मैच का फाइनल मैच शाह सतनाम जी ब्वॉयज कॉलेज और यू.टी.डी की टीम के बीच खेला गया। जिसमें टॉस जीतकर शाह सतनाम जी ब्वॉयज कॉलेज की टीम ने पहले बल्लेबाजी निर्धारित 12 ओवरों में 77 रन बनाकर यूटीडी टीम के समक्ष 78 रनों का लक्ष्य रखा। लक्ष्य का पीछा करने मैदान में उतरी यूटीडी की टीम प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा तथा मात्र 60 रनों पर ऑलआऊट होकर 3 विकेटों से शाह सतनाम सिंह कॉलेज की टीम ने मैच जीत लिया। इस प्रतियोगिता का अगला मैच इंटर यूनिवर्सिटी के तहत मेरठ में होगा, जिसमें जेसीडी मैमोरियल कॉलेज के तीन खिलाड़ी विकास लाम्बा, राहुल व अभिषेक भी अपने जौहर दिखाएंगे। इस सम्पूर्ण प्रतियोगिता में शाह सतनाम सिंह ब्वॉयज कॉलेज के रूपकरण ने बेहतर प्रदर्शन किया। प्रतियोगिता में तीसरे नंबर पर एम.एम कॉलेज फतेहाबाद की टीम रही। मैच की समाप्ति पर मुख्यातिथि ने विजेता खिलाडियों को ट्राफी व मैडल देकर सम्मानित किया। इस प्रतियोगिता के पहले दिन शुभारंभ के अवसर पर चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के शारीरिकि शिक्षा विभाग के अध्यक्ष प्रो. रविन्द्रपाल अहलावत ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की तथा विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार प्रदान किए गए थे।