Or 01666-238105
Mon - Sat: 9:00AM - 5:00PM All Holidays and Saturday - Open

Cross Country Tournament at JCD Memorial College, Sirsa

जेसीडी विद्यापीठ में चौ.देवीलाल विश्वविद्यालय द्वारा अंत:महाविद्यालय क्रास कंट्री टूर्नामेंट आयोजित
किसी भी बाधा या रूकावट का हल रूक जाना नहीं, उसे हिम्मत एवं मेहनत से पार करना ही कामयाबी : डॉ.विजय कायत

जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित मैमोरियल कॉलेज एवं चौ.देवीलाल विश्वविद्यालय के तत्वावधान में अंत:महाविद्यालय क्रॉस कंट्री टूर्नामेंट का आयोजन करवाया गया, जिसमें सिरसा शहर एवं इसके आस-पास के अनेक महाविद्यालयों के प्रतिभागियों ने बढ़-चढक़र हिस्सा लिया। इस प्रतियोगिता के शुभारंभ हेतु चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.विजय कुमार कायत उपस्थित हुए, वहीं इस मौके पर विशिष्ट अतिथि के तौर पर डीन ऑफ कॉलेजिज डॉ.विष्णु भगवान ने शिरकत की। वहीं इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम शर्मा द्वारा की गई। इस प्रतियोगिता में प्रत्येक महाविद्यालय से 6 पुरुष वर्ग तथा 6 महिला वर्ग के खिलाडिय़ों का चयन किया गया। इस प्रतियोगिता के संयोजक डॉ.जयप्रकाश तथा आयोजन सचिव खेल अधिकारी मि.अमरीक सिंह रहे। कार्यक्रम का आगाज़ मुख्यातिथि द्वारा फ्लैग फॉल करके किया गया। सभी प्रतिभागियों ने पूरे जोश के साथ क्रोस कंट्री दौड़ में दम-खम दिखाया।

सर्वप्रथम डॉ.जयप्रकाश एवं मि.अमरीक सिंह ने बताया कि इस प्रतियोगिता को आयोजित करने का मकसद उभरते खिलाडिय़ों को उनकी क्षमताओं से रूबरू करवाना है। ऐसी प्रतियोगिताएं खिलाडिय़ों को नए जोश से भर देती है साथ ही उनमें कभी न हार मानने के जज्बे को बुलंद करती हैं। उन्होंने विश्वविद्यालय के खेल अधिकारी डॉ.अशोक शर्मा तथा प्रशासनिक अधिकारियों का इस प्रतियोगिता को जेसीडी में आयोजन करवाने हेतु धन्यवाद किया।
कार्यक्रम के शुभारंभ में प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम ने मुख्यातिथि डॉ विजय कायत तथा डॉ. विष्णु भगवान को पौधा भेंट करके स्वागत किया। उन्होंने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि वे खुद स्वास्थ्य के प्रति बहुत सजग हैं इसलिए खेलों के लिए उनके मन में बहुत सम्मान है तथा वे चाहती हैं कि समय-समय पर जेसीडी विद्यापीठ में ऐसी प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया जाता है कि हमारे विद्यार्थी अपना बेहतर प्रदर्शन करके संस्थान ही नहीं अपितु सम्पूर्ण जिला सहित हरियाणा का नाम रोशन कर पाएं। हम अपने विद्यार्थियों को इसके लिए तमाम सुविधाएं मुहैया करवाते हैं तथा ऐसे आयोजन उनके लिए काफी लाभदायक साबित होते हैं।

इस मौके पर खिलाडिय़ों एवं अन्य को अपने संबोधन में डॉ.विष्णु भगवान ने कहा के खिलाड़ी के लिए खेल भावना का होना बहुत आवश्यक पहलू है जिसके बिना कोई भी खिलाड़ी आगे नही बढ़ सकता क्योंकि खेल को अगर खेल भावना से खेला जाए तो उसमें हार-जीत का कोई मायना नहीं रहता है तथा खिलाड़ी अपना बेहतर प्रदर्शन कर पाता है।

बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में डॉ.विजय कुमार कायत ने सर्वप्रथम जेसीडी विद्यापीठ में व्याप्त सुविधाओं की तथा अनुशासन की प्रशंसा करते हुए कहा के आज की इस प्रतियोगिता के महत्व को अगर हम अपने जीवन के विभिन्न आयामों के साथ जोड़े तो ये भी वैसा ही है राह में रुकावटें भी आएगी बाधाएं भी आयेंगी पर इस क्रोस कंट्री दौड़ प्रतियोगिता से सिख सकते हैं के किसी भी बाधा या रुकावट पर रुक जाना हल नहीं है हमे आगे बढ़ते ही जाना होता है और मंजिल को पा ही जाते है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी जीवन सदैव संघर्षरत्त होता है तथा इसमें उसे अनेक नए आयाम मिलते हैं यह तो केवल विद्यार्थी पर ही निर्भर करता है कि वह किस ओर जाता है तथा खेल प्रतिस्पर्धाओं का वर्तमान में लाभ ही प्राप्त होता है चाहे वह स्वास्थ्य सम्बन्धी हो या रोजगार सम्बन्धी इसीलिए प्रत्येक विद्यार्थी को कोई न कोई खेल अवश्य अपनाना चाहिए।

पुरुष एकल दौड़ प्रतियोगिता में राजकीय कॉलेज भट्टू के नितेश कुमार प्रथम, एमएम कॉलेज फतेहाबाद के प्रदीप कुमार द्वितीय तथा राजकीय कॉलेज भट्टू के वेद प्रकाश तृतीय स्थान पर रहे। महिला एकल दौड़ प्रतियोगिता में राजकीय महिला कॉलेज की पारुल रानी प्रथम, जेसीडी मैमोरियल कॉलेज की मनदीप कौर द्वितीय तथा एमएम कॉलेज फतेहाबाद की प्रीत कौर तृतीय स्थान पर रही। वहीं पुरूषों की समूह दौड़ प्रतियोगिता में एमएम कॉलेज फतेहाबाद की टीम प्रथम, राजकीय कॉलेज भट्टू की टीम द्वितीय तथा शाह सतनाम जी बॉयज़ कॉलेज सिरसा की टीम तृतीय रही। समूह दौड़ महिलाओं की प्रतियोगिता में एमएम कॉलेज फतेहाबाद की टीम प्रथम, शाह सतनाम जी गर्ल्स कॉलेज की टीम द्वितीय तथा सीएमके गर्ल्स कॉलेज की टीम तृतीय स्थान पर रही।

इस अवसर पर जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों से डॉ.अरिन्दम सरकार, डॉ.कुलदीप ङ्क्षसह, डॉ.राजेन्द्र कुमार, डॉ.दिनेश गुप्ता, डॉ.अनुपमा सेतिया व श्री सुधांशु गुप्ता सहित अन्य अधिकारीगण, कर्मचारी तथा विद्यार्थीगणों के अलावा चौ.देवीलाल विश्वविद्यालय से अनेक अधिकारीगण एवं गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम में उपस्थित सभी गणमान्य प्रशिक्षकों को प्रशंसा प्रमाण पत्र प्रदान कर समानित किया गया तथा सभी विजेता धावकों को मुख्यातिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा मैडल एवं प्रमाण पत्र प्रदान किए गए।