Follow us:-
Educational Tour to Vita Milk Plant, Sirsa
  • By
  • October 19, 2016
  • No Comments

Educational Tour to Vita Milk Plant, Sirsa

सिरसा 19 अक्तूबर, 2016 : जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित बहुतकनीकी संस्थान के मैकेनिकल एवं इलैक्ट्रिकल विभाग के अंतिम वर्ष के छात्रों का एक दल विगत दिवस स्थानीय वीटा मिल्क प्लांट का एक दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण करके लौटे। सभी विद्यार्थियों को इस भ्रमण के लिए कॉलेज प्राचार्य इंजी. आर.एस. बराड़ द्वारा रवाना किया गया था। विद्यार्थियों के इस दल का निर्देशन प्राध्यापक इंजी. लोकेश लूथरा ने किया।

जेसीडी पोलिटेक्रीक कॉलेज के इस भ्रमण दल का वीटा मिल्क प्लांट पहुंचने पर प्लांट के सहायक महाप्रबंधक श्री आदिश मलिक द्वारा गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया तथा सभी विद्यार्थियों को प्लांट की कार्य कुशलता एवं कार्य क्षमता के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की गई। उन्होंने विद्यार्थियों को विभिन्न गांवों से आने वाले दूध का मापन, भंडारण तथा उससे घी, मक्खन, क्रीम, पनीर व दही इत्यादि बनाए जाने की प्रक्रिया तथा तरल दूध से सूखा पाऊडर बनाए जाने व तरल दूध की पैकिंग मशीन का भी निरीक्षण करवाया। उन्होंने विद्यार्थियों को अन्य कार्यप्रणालियों के बारे में भी जानकारी प्रदान की। उन्होंने बताया कि उपरोक्त सभी कार्य प्लांट में मशीनों द्वारा ही किया जाता है।

इस अवसर पर कॉलेज के प्राचार्य इंजी. आर.एस. बराड़ ने अपने संबोधन में विद्यार्थियों को कहा कि जिस प्रकिया को विद्यार्थी स्वयं के अनुभव से सीखता है, वह अधिक समय तक याद रहती है तथा वह अधिक कारगर साबित होती है। इसलिए शैक्षणिक भ्रमणों का समय-समय पर आयोजन किया जाता है ताकि विद्यार्थी बेहतर ज्ञान अर्जित कर सकें। उन्होंने कहा कि हम हमारे विद्यार्थियों को शिक्षा के साथ-साथ अन्य तकनीकी ज्ञान भी प्रदान करने का प्रयास करते है, जिसके लिए समय-समय पर भ्रमणों तथा कार्यशालाओं एवं सेमिनार इत्यादि का आयोजन करवाया जाता है। इंजी. बराड़ ने कहा कि इस प्रकार के भ्रमण का उद्देश्य विद्यार्थियों का आंतरिक विकास करना है, क्योंकि भ्रमण के माध्यम से विद्यार्थियों ने जो किताबों में अध्ययन किया होता है, उन्हीं संसाधनों को प्रत्यक्ष रूप से कार्य करते हुए देखना, एक अलग ही अनुभव है। वहीं उन्होंने इस भ्रमण हेतु प्रोत्साहित एवं मार्गदर्शन करने के लिए जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंधन समन्वयक इंजी. आकाश चावला, शैक्षणिक निदेशक डॉ. आर.आर. मलिक एवं रजिस्ट्रार श्री सुधांशु गुप्ता का आभार प्रकट किया।

इस मौके पर संस्थान के मैकेनिकल एवं इलैक्ट्रिकल विभाग के अध्यक्ष एवं अन्य स्टाफ सदस्य भी उपस्थित रहे।