Follow us:-
Nirwan Diwas of Ch. Devi Lal Ji – JCD Vidyapeeth, Sirsa
  • By
  • April 7, 2021
  • No Comments

Nirwan Diwas of Ch. Devi Lal Ji – JCD Vidyapeeth, Sirsa

जेसीडी विद्यापीठ में चौ. देवीलाल जी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित
हरियाणा के जन्मदाता चौ. देवीलाल की 20वीं पुण्यतिथि पर उनकी प्रतिमा पर किया माल्यार्पण
जनकल्याणकारी सोच के चलते ही असहाय वर्ग के मसीहा थे चौधरी देवीलाल जी : डॉ. शमीम शर्मा

सिरसा 6 अप्रैल, 2021 : देश के पूर्व उपप्रधानमंत्री चौ० देवी लाल की 20वीं पुण्यतिथि पर जेसीडी विद्यापीठ में उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस श्रद्धांजलि सभा में जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ. शमीम शर्मा, रजिस्ट्रार सुधांशू गुप्ता सहित, डेन्टल कॉलेज के निदेशक डॉ. राजेश्वर चावला, जेसीडी विद्यापीठ के सभी कॉलेजों के प्राचार्य डॉ. जयप्रकाश, डॉ. कुलदीप सिंह, डॉ. अरिन्दम सरकार, डॉ. अनुपमा सेतिया, डॉ. दिनेश गुप्ता, डॉ. शिखा गोयल, इंजी. आर.एस. बराड़ सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारियों ने चौ. देवीलाल जी की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित किए व माल्यार्पण किया गया। इस अवसर पर दो मिनट का मौन धारण करके उनकी आत्मिक शांति की कामना की गई।

इस मौके पर अपने संबोधन में डॉ. शमीम शर्मा ने चौ. देवीलाल जी द्वारा मानवहित में किए गए सामाजिक, राजनैतिक, कार्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उनका सम्पूर्ण जीवन ग्रामीण भारत में फै ले व्यापक शोषण, असमानता, गरीबी व अज्ञानता को समाप्त करने के लिए संघर्ष में ही व्यतीत हुआ। उन्हें सत्ता का मोह कभी नहीं रहा, उन्होंने हमेशा मानवीय मूल्यों पर बल दिया और ग्रामीण आंचल की शिक्षा के बारे में जो सपना देवी लाल जी ने देखा था उसके लिए उनका सम्पूर्ण परिवार कृ तसंकल्प हैं। उन्होंने कहा कि चौ. देवीलाल जी एक त्यागी पुरु ष थे, जिन्होंने अपने त्याग का परिचय देते हुए प्रधानमंत्री पद को भी ठुकरा दिया था तथा सदैव मजदूरों, किसानों के अलावा प्रत्येक वर्ग को बराबर का सम्मान प्रदान किया था, जिसके कारण आज भी बुजुर्ग और नौजवान उन्हें अपना मसीहा मानते हैं। डॉ. शर्मा ने कहा कि चौ. देवीलाल जी ने आजीवन किसान, मुजारों, गरीबों और सर्वहारा वर्ग के लोगों के लिए उप-प्रधानमंत्री जैसे गरिमापूर्ण पद पर रहते हुए भी सघर्ष किया और उन्हें उनका हक दिलाया। उन्होंने कहा कि चौ. देवीलाल जी हरियाणा के जन्मदाता थे, हमें भी उनकी नीतियों पर चलना चाहिए तथा उनके आदर्शों का अनुसरण करके कामयाबी की ओर अग्रसर होना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों एवं शिक्षकों से आह्वान किया कि वे चौ. देवीलाल जी द्वारा देखे गए बेहतर शिक्षा एवं संस्कारों के स्वप्र को साकार रूप प्रदान करने के लिए प्रयास करें।

वहीं दूसरी ओर उनके निर्वाण दिवस के उपलक्ष्य में विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्यगणों द्वारा एक टीम का गठन करके स्वयं सिरसा जिला में स्थापित वृद्धाश्रम, प्रयास मंदबुद्धि स्कूल, दिशा संस्थान एवं कुष्ठआश्रम इत्यादि में फल व अनाज वितरित किए गए तथा वहां पर उपस्थित लोगों को चौ. देवीलाल जी की नितियों एवं उनके आदर्शों पर चलने का आग्रह किया और उनके बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की। इस कार्यक्रम में जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों के समूचे स्टाफ सदस्य, अधिकारीगण, शिक्षकगण एवं विद्यार्थियों ने भी अपने-अपने कॉलेज में उनकी प्रतिमा के समक्ष पुष्प अर्पित किए।