NSS special camp – 28/12/2017

राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक व सेविकाओं ने चलाया स्वच्छता व साक्षरता अभियान

28 दिसंबर 2017 : जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय,सिरसा की राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत सात दिवसीय नियमित शिविर का आयोजन किया जा रहा है,इस शिविर के तृतीय व चतुर्थ दिवस राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय नेजाडेला कला के परिसर में गत दिवस डॉ रोशन लाल प्रिंसिपल जेसीडी आई बी एम व आज डॉ. प्रदीप स्नेही प्रिंसिपल जे सी डी मेमोरियल कॉलेज एवं श्री शमशेर सिंह गुप्ता पूर्व सरपंच पनिहारी ने शिरकत की। सर्वप्रथम कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर जयप्रकाश ने आए हुए अतिथियों का स्वागत किया उन्होंने स्वयंसेवी छात्र-छात्राओं को राष्ट्रीय सेवा योजना के महत्व की जानकारी देते हुए उनके कर्तव्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत का उद्देश्य जहां शौचालय के निर्माण के माध्यम से खुले में शौच को कम करना या समाप्त करना है वही पूर्ण स्वच्छताअभियान के द्वारा शहरों,कस्बा व गांव को पूरी तरह स्वच्छ करना भी इसका उद्देश्य है। इस दौरानस्वयं-सेवी छात्र-छात्राओं ने गांव नेजाडेला कला में स्वच्छता एवं साक्षरता अभियान चलाया गया। साक्षरता अभियान के तहत 25 प्रोढ़ व्यक्तियों का चयन चयन करके उनको पढ़ा रहे हैं। इसके साथ-साथ 10 दिव्यांगविद्यार्थियों की भी पहचान की गई,जिनको इस शिविर में विशेष कक्षाओं के माध्यम से स्वयं-सेवीछात्र-छात्राओं द्वारा पढ़ाया गया। डॉक्टर डॉ रोशन लाल ने अपने संबोधन में कहा कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ दिमाग निवास करता है उन्होंने बताया कि बच्चे के विकास में तथा वातावरण दोनों का प्रभाव होता है उन्होंने अपने संबोधन में आईक्यू को बढ़ाने के तरीके के बारे में बताया उन्होंने कहा कि बच्चों को अच्छी कहानियां सुनाने चाहिए और हमें सभी का आदर करना चाहिए,कर्म ही हमारा धर्म है तथा पूजा है उन्होंने कहा कि हमें वातावरण के अनुसार अपनी आदतों को भी बदल लेना चाहिए।

आज डॉक्टर प्रदीप स्नेही ने अनुशासन में रहने मोरल वैल्यू के बारे में,लाइब्रेरी के महत्व के बारे में,नारी सशक्तिकरण के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान ! उन्होंने बताया कि हमें लाइब्रेरी प्रतिदिन प्रयोग करनी चाहिए तथा प्रतिदिन कुछ समय अखबार व मैगजीन को पढ़ने में भी लगाना चाहिए और उन्होंने अपने से बड़ों का आदर करने पर भी जोर दिया !

पूर्व सरपंच पनिहारी शमशेर सिंह गुप्ता ने अपने संबोधन में स्वयंसेवक व सेविकाओं को इ लाइब्रेरी के महत्व को समझाया था उन्होंने सर्व शिक्षा अभियान की भी प्रशंसा की तथा उन्होंने स्वयं सेवक व सेविकाओं को सामाजिक कार्यों के लिए प्रेरित किया। स्कूल के अध्यापक अमित ने अपने संबोधन में स्वयंसेवक व सेविकाओं से आह्वान किया कि वह अपने अध्यापन में डिजिटल टेक्नोलॉजी का प्रयोग करें तथा उन्होंने कहा कि जब अध्यापक का लेवल ऊपर उठेगा तो बच्चे का लेवल अपने आप ही उठ जाएगा। डॉक्टर सत्यनारायण एन एस एस ऑफिसर ने आए हुए सभी अतिथियों का धन्यवाद किया। इस मौके पर स्कूल के अध्यापक अशोक,अमित व संतोष आदि उपस्थित रहे। अंत में प्राचार्य डॉक्टर जयप्रकाश द्वारा आए हुए अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया

You may also like