Follow us:-
Sachin Poonia, a student of JCD Shooting Range, got selected in the Indian Shooting Trial.
  • By
  • March 28, 2022
  • No Comments

Sachin Poonia, a student of JCD Shooting Range, got selected in the Indian Shooting Trial.

जेसीडी शूटिंग रेंज के विद्यार्थी सचिन पूनिया का इंडियन शूटिंग ट्रायल में हुआ चयन।
भोपाल में हुए राइफल मुकाबलों में सचिन ने अपना बेहतर प्रदर्शन कर पाया इंडिया शूटिंग ट्रायल का मौका

सिरसा 28 मार्च 2022: जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित 10 मीटर शूटिंग रेंज के विद्यार्थियों ने अपनी कला का प्रदर्शन करते हुए एक बार फिर से अपना लोहा मनवाने का काम किया है। इसी कढी में विगत दिवस भोपाल में आयोजित करवाई गई नैशनल इंडियन शूटिंग ट्रायल प्रतियोगिता में अपना बेहतर प्रदर्शन करते हुए आगामी आयोजित होने वाले इंडिया शूटिंग ट्रायल में अपनी जगह बना ली है। यह जानकारी देते हुए शूटिंग रेंज के कोच अमन कड़वासरा व जेसीडी विद्यापीठ के खेल अधिकारी डॉ. अमरीक सिंह ने बताया कि भोपाल में आयोजित हुई राइफल शूटिंग ट्रायल प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया गया था, जिसमें जेसीडी शूटिंग रेंज के खिलाड़ियों ने भी हिस्सा लेकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया था। इस मौके पर उनके साथ जेसीडी मेमोरियल कॉलेज की प्राचार्य डॉ शिखा गोयल भी उपस्थित रहे। उन्होंने बताया कि इनमें से राइफल शूटिंग में जेसीडी मेमोरियल कॉलेज के बीए प्रथम वर्ष के विद्यार्थी सचिन पूनिया का चयन इंडिया शूटिंग ट्रायल हेतु हुआ है। उन्होंने बताया कि पहले भी हमारे विद्यार्थियों ने हरियाणा ही नहीं अपितु राष्ट्रीय स्तर पर अनेक प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेकर अपना बेहतर प्रदर्शन करके रेंज के साथ-साथ संस्थान का भी नाम रोशन किया है।

विद्यार्थियों की इस उत्कृष्ठ उपलब्धि पर अपना आशीर्वाद एवं बधाईयां प्रेषित करते हुए जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ. शमीम शर्मा ने सचिन पूनिया को अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की तथा उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य हमारे विद्यार्थियों को केवल बेहतर शिक्षा में प्रांगण करना हीं नहीं अपितु सर्वांगीण विकास करना है, जिसमें संस्थान में स्थापित शूटिंग रेंज एवं अन्य खेल गतिविधियां अपनी अह्म भूमिका अदा कर रही हैं। डॉ. शर्मा ने कहा कि शूटिंग एक ऐसा खेल है जिसमें विद्यार्थी को गहनता, चिंतनता एवं तन्मयतापूर्ण तरीके से अपना निशाना सटीक लगाना होता है जो हमें एकाग्रचित रहने का संदेश प्रदान करता है तथा अपने लक्ष्य का निर्धारण करके उसे प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करने की शिक्षा देता है। उन्होंने कहा कि हम अपने विद्यार्थियों को प्रत्येक गतिविधियों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने के लिए सदैव प्रेरित करते हैं जिसके चलते वह इस प्रकार की उपलब्धियां हासिल करके केवल अपना ही नहीं अपितु अपने माता-पिता एवं संस्थान का नाम रोशन करने का काम करते हैं।