Follow us:-
Valedictory of NSS 7 Day Camp
  • By Davinder Sidhu
  • February 7, 2024
  • No Comments

Valedictory of NSS 7 Day Camp

*एनएसएस शिविरों से हो रहा विद्यार्थियों के व्यक्तित्व का विकास- डॉ. ढींडसा*

*एनएसएस सात दिवसीय विशेष कैंप का समापन*

सिरसा4 फरवरी 2024 : जेसीडी मेमोरियल कॉलेज की एनएसएस यूनिट की तरफ से  वैदवाला गांव के गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में शुरू हुए विशेष एनएसएस कैंप का विभिन्न गतिविधियों के उपरांत समापन हो गया है। इस विशेष एनएसएस कैंप का समापन कार्यक्रम वैदवाला गांव के गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में किया गया। इस कार्यक्रम में कॉलेज प्राचार्या डॉ. शिखा गोयल उपस्थित रहीं।वहीं गांव के सरपंच श्री दीप सिंह को विशेष तौर पर आमंत्रित किया गया।विशिष्ट अतिथि के रूप में स्कूल की मुख्य अध्यापिका श्रीमती नीलम, श्री रवि कंबोज शामिल हुए।

      जेसीडी विद्यापीठ के महानिदेशक प्रो. डॉ. कुलदीप सिंह ढींडसा ने जेसीडी मेमोरियल कॉलेज, प्राचार्या शिखा गोयल और एनएसएस के सभी स्वयंसेवकों को बधाई देते हुए कहा कि इन 7 दिनों में विद्यार्थियों ने जिन जिन गतिविधियों में भाग लिया है उसके अनुभव उनके लिए पूरी जिंदगी स्मरणीय रहेंगे। उन्होंने कहा कि विद्यापीठ के अन्य कॉलेज भी ऐसी गतिविधियों का आयोजन लगातार कर रहे हैं, और ऐसे प्रयास विद्यापीठ की सेवा भावना की मूल सोच को प्रदर्शित करते हैं।जेसीडी मेमोरियल कॉलेज की एनएसएस विंग लगातार सक्रिय रूप से समाज कल्याण में अपना योगदान दे रही है जो कि हमारे लिए गर्व का विषय है।यह विद्यार्थी न सिर्फ समाज के लिए काम कर रहे हैं बल्कि साथ-साथ अपने व्यक्तित्व का भी विकास कर रहे हैं जिसका भविष्य में इन्हें हर क्षेत्र में फायदा मिलेगा।

    प्रोग्राम ऑफिसर श्रीमती सीमा रानी, डॉ. अमरीक गिल के साथ-साथ अन्य सदस्यों श्री मलकीत सिंह,श्री नवदीप सिंह,श्री सोमवीर सिंह,श्रीमती नेहा, श्रीमती पूजा की देखरेख में इस कैंप का आयोजन हुआ।

    जेसीडी मेमोरियल कॉलेज की प्राचार्या डॉ शिखा गोयल ने कहा कि यह कैंप बेहद सफल रहा और इसमें भाग लेने वाले सभी विद्यार्थी और इंचार्ज बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि  ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ व ‘आत्मनिर्भर भारत’ थीम पर आयोजित इस 7 दिवसीय विशेष कैंप के दौरान एनएसएस के स्वयंसेवकों ने अलग-अलग जगहों पर जाकर कई चरणों में गतिविधियों को अंजाम दिया और समाज में जागरूकता लाने का भी काम किया। इस दौरान एनएसएस के स्वयंसेवकों ने अनेकों संस्थाओं में जाकर श्रमदान किया। डॉ.शिखा गोयल ने बताया कि स्वयं सेवकों ने गांव हांडीखेड़ा और वैदवाला में जाकर नशामुक्ति, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ व कौशल विकास जैसे विषयों पर रैलियां निकली और नुक्कड़ नाटकों का भी आयोजन किया। जिसके बाद हेलेन केलर स्कूल में जाकर दृष्टिहीन बच्चों के साथ समय व्यतीत किया एवं स्कूल की साफ सफाई भी की। वहीं इस कैंप के दौैरान दिशा स्कूल और भाई कन्हैया सेवा संस्थान में जाकर  मानसिक दिव्यांग बच्चों के साथ समय भी बिताया और श्रमदान भी किया। इसके अलावा कस्तूरबा गांधी वृद्ध आश्रम में जाकर वृद्धजनों के साथ समय भी व्यतीत किया। डॉ. शिखा गोयल ने इस कार्यक्रम में पहुंचे विशिष्ट अतिथियों व गणमान्य व्यक्तियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया।

     प्रोग्राम ऑफिसर श्रीमती सीमा ने बताया कि इन सात दिनों में इस कैंप की थीम के अनुसार पोस्टर मेकिंग,स्पीच प्रतियोगिता,सामूहिक परिचर्चा, कुकिंग जैसी कई गतिविधियां करवाई गई।इसके अलावा विद्यार्थियों को आत्मनिर्भर व स्वावलंबी बनने के लिए प्रेरित किया गया। समापन कार्यक्रम में  स्कूल के विद्यार्थियों और एनएसएस स्वयं सेवकों की ओर से थीम पर आधारित कई प्रस्तुतियां भी दी गईं जिसके लिए उन्हें सम्मानित भी किया गया।बैस्ट वालंटियर रहे मोहित,रवि,गुरलाल,हरमन,सुखविंदर को सम्मानित किया गया और अंत में सभी स्वयं सेवकों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए गए।

      इस कैंप में स्वयंसेवकों की तरफ से किए गए कार्य की वैदवाला गांव के गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रबंधन और ग्राम पंचायत ने सराहना की, स्कूल की मुख्य अध्यापिका ने कहा कि स्वयंसेवकों ने स्कूल और गांव में साफ सफाई करके गांव के लोगों और विद्यार्थियों को जहां स्वच्छता का संदेश दिया वहीं सामाजिक बुराइयों से लड़ने के लिए जागरूकता भी फैलाई। इसके अलावा सिरसा की अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने भी स्वयं सेवकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनके प्रयासों द्वारा प्रांगण में काफी सुधार हुआ है। स्वयं सेवकों ने भी इस कैंप को लेकर सकारात्मक प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उनके लिए यह काफी अच्छा अनुभव रहा है और इस कैंप के दौरान उनमें जन सेवा का जज्बा जागृत हुआ है।