Follow us:-
Annual Convocation-2017 – Fly high but stay connected with your roots- Prof (Dr.) Gurmail Singh
  • By
  • March 25, 2017
  • No Comments

Annual Convocation-2017 – Fly high but stay connected with your roots- Prof (Dr.) Gurmail Singh

जेसीडी विद्यापीठ में वार्षिक दीक्षांत समारोह-2017 में 300 से अधिक विद्यार्थियों ने हासिल की उपाधि
विद्यार्थियों का कर्म ही पूजा ध्येय होना चाहिए व अर्जित ज्ञान का समाज कल्याण हेतु करें प्रयोग : प्रो. गुरमेल सिंह

सिरसा 25 मॉर्च, 2017 : जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित सभागार कक्ष में जेसीडी इंजीनियरिंग, आईबीएम कॉलेज, फार्मेसी कॉलेज, शिक्षण महाविद्यालय, जेसीडी बहुतकनीकी एवं जेसीडी मैमोरियल कॉलेज के विद्यार्थियों को डिग्रियां प्रदान करने हेतु वार्षिक दीक्षांत समारोह-2017 का आयोजन शनिवार को किया गया, जिसमें बतौर मुख्यातिथि पंजाब के अकाल विश्वविद्यालय, तलवंडी साबो के कुलपति प्रोफेसर (डॉ.) गुरमेल सिंह उपस्थित हुए। वहीं इस कार्यक्रम में उनके साथ जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंधक समन्वयक इंजी. आकाश चावला, शैक्षणिक निदेशक डॉ. आर.आर. मलिक, दीक्षांत समारोह के समन्वयक डॉ. विनय लाठर व डॉ. प्रदीप स्नेही के अलावा अन्य कॉलेजों के प्राचार्यगण एवं जेसीडी विद्यापीठ के रजिस्ट्रार श्री सुंधाशु गुप्ता के अलावा अन्य गणमान्य लोग भी मौजूद रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यातिथि एवं अन्य द्वारा मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित करके किया गया। इस वार्षिक समारोह में एमबीए, बीबीए, एम.एड., बी.एड., बी.फार्मा., एम.फार्मा., बी.टैक, एम.टैक, बी.एस.सी., बीसीए, बी.ए. एवं बी.कॉम. के 500 से अधिक विद्यार्थियों को उपाधियां प्रदान की गई तथा अनेक विद्यार्थियों को शिक्षा में बेहतर प्रदर्शन करते हुए विश्विद्यालय स्तर पर स्थान हासिल करने के लिए स्वर्ण पदक एवं प्रमाण-पत्र प्रदान करके सम्मानित किया गया।

 

सर्वप्रथम इंजी. आकाश चावला एवं डॉ. आर.आर. मलिक ने अपने संबोधन में इस मौके पर बतौर मुख्यातिथि पधारे प्रो. गुरमेल सिंह का स्वागत करते हुए कहा कि यह बहुत ही बड़ी उपलब्धि है कि हमारे विद्यार्थियों को एक अनुभवी व्यक्तित्व के धनी तथा उच्च पदासीन शख्सियत से उपाधियां प्राप्त करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य हमारे विद्यार्थियों को केवल बेहतर शिक्षा ही प्रदान करना नहीं अपितु उनका सर्वांगीण विकास करके उनकी एक बेहतर पहचान कायम करना है। इस मौके पर डॉ. आर.आर. मलिक ने वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया जिसमें गत वर्ष की विद्यापीठ के विद्यार्थियों द्वारा अर्जित की गई उपलब्धियों का व्याख्यान किया गया। डॉ. मलिक ने कहा कि हमारे विद्यार्थियों ने शिक्षा के अलावा खेलकूद, सांस्कृतिक एवं अन्य गतिविधियों में भी अपनी प्रतिभा लोहा मनवाने का काम किया है, जिसके चलते संस्थान की राष्ट्रीय स्तर की पहचान कायम हुई है, वहीं हमारे यहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट ग्राऊंड तथा 10 मीटर की अंतर्राष्ट्रीय स्तर की शूटिंग रेंज भी स्थापित की गई, जहां विद्यार्थियों द्वारा अनेक उपलब्धियां हासिल की गई हैं।

 

बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में प्रो. गुरमेल सिंह ने सर्र्वप्रथम जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंधन समिति एवं दीक्षांत समारोह के आयोजकों को इस कार्यक्रम की हार्दिक बधाई देते हुए उपाधि प्राप्त करने वाले अभियार्थियों को भी उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं प्रदान करते हुए बधाई प्रेषित की। उन्होंने अपने संबोधन में जेसीडी विद्यापीठ में व्याप्त अनुशासनात्मक माहौल, हरा-भरा कैंपस एवं बेहतर शिक्षण एवं संस्कारों की भूरि-भूरि प्रशंसा की। उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि यह आपके जीवन का एक महत्वपूर्ण दिवस है, जिससे आपकी पौराणिक कॉलेज जीवन की यादें एक बार फिर कैम्पस में उपस्थित होने पर ताजा हो आई है। प्रो. गुरमेल सिंह ने सभी उपाधि प्राप्तकर्ताओं से अनुरोध किया कि वे अपने अर्जित ज्ञान व शिक्षा का समाज कल्याण में उपयोग करें तथा अच्छे मानव बनें। उन्होंने कहा कि अपने अन्र्तमन की सुन कर ही हमें जीवन उद्देश्य निर्धारित करना चाहिए ताकि हम सही दिशा की ओर अग्रसर हो सकें। अपनी अंर्तात्मा की आवाज को सुनें। प्रत्येक को जीवन में सफलता हासिल करने के लिए समय की प्रबंधता का होना अतिआवश्यक है अगर हम समय के महत्व को नहीं पहचानेंगे तो पिछड़ जाएंगे। शिक्षक एवं विद्यार्थी अपने को अपडेट रखें तथा समाजहित में कार्य करते हुए सदैव अपने लक्ष्य को स्मरण रखते हुए बेहतर कार्य करें।
इस वार्षिक दीक्षांत समारोह के समन्वयक डॉ. विनय लाठर एवं डॉ. प्रदीप स्नेही ने मुख्यातिथि महोदय एवं अन्य अतिथियों का इस कार्यक्रम में पधारने पर हार्दिक आभार प्रकट करते हुए अपना धन्यवादी अभिभाषण प्रस्तुत किया तथा उपाधि प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को कहा कि वह अब एक नए पथ पर अग्रसर हो चुके हैं, जिस पर उन्हें संभलकर चलना होगा। उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य हमारे विद्यार्थियों एवं शिक्षकों को समय-समय पर बेहतर अनुभवी विशेषज्ञों से रूबरू करवाकर उनकी ज्ञान में वृद्धि करना होता है, जिसके लिए हम कृतसंकल्प है तथा निकट भविष्य में भी इस कार्य में लगे रहेंगे। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को बधाई प्रेषित की तथा उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं प्रेषित की।

 

सभी विद्यार्थियों को मुख्यातिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा उपाधि प्रदान की गई तथा अनेक विद्यार्थियों को बेहतर प्रदर्शन करने के लिए गोल्ड मेडल प्रदान करके सम्मानित किया गया। वहीं इस मौके पर जेसीडी विद्यापीठ की वार्षिक रिपोर्ट का भी सभी अतिथियों द्वारा विमोचन किया गया, जिसमें विद्यार्थियों एवं संस्थान की उपलब्धियों का व्याख्यान किया गया है। कार्यक्रम के अंत में मुख्यातिथि महोदय को जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंधन समिति एवं अन्य द्वारा स्मृति चिह्न प्रदान करके सम्मानित किया गया।