Or 01666-238105
Mon - Sat: 9:00AM - 5:00PM 2nd Sat., 3rd Sat, Sunday: Closed

Ending of Seven Day and Night N.S.S Camp – JCD PG College of Education, Sirsa

NSS Unit of Jananayak Chaudhari Devi Lal PG Education College organized a seven-day camp in Panihari from December 25 to December 31, 2018. A closing ceremony was held on the last day of this seven day NSS camp.

Mrs. Amna Tasnim, Additional Commissioner, Sirsa attended the program as Cheif Guest while Dr. Shamim Sharma, Managing Director, JCDV, Mr. Pawan Suthar, Mrs. Poorvi Choudhury CMGGA Dr. Amandeep were Special Guests. The program was Presiding by Principal Dr. Jai Prakash, who welcomed and thanked all guests.

जननायक चौधरी देवीलाल शिक्षण महाविद्यालय के एनएसएस यूनिट द्वारा सात दिवसीय शिविर का आयोजन गांव पनिहारी में दिनांक 25 दिसंबर से 31 दिसंबर 2018 तक आयोजित किया गया इस सात दिवसीय एनएसएस शिविर के अन्तिम दिन एक समापन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि सिरसा के अतिरिक्त आयुक्त श्रीमती आमना तस्नीम एवं कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि जननायक चौधरी देवीलाल विद्यापीठ के प्रबंधक निदेशक डॉ शमीम शर्मा, श्री पवन सुथार, श्रीमती पूर्वी चौधरी सीएमजीजीए डॉ अमनदीप व कार्यक्रम की अध्यक्षता कालेज के प्राचार्य डॉ जयप्रकाश ने की। प्राचार्य डॉ जयप्रकाश ने आए हुए अतिथियों का स्वागत किया और भविष्य की योजना के बारे में भी प्रकाश डाला जिनमें मुख्यता हैं महिला साक्षरता दर को बढ़ाना, असहाय व्यक्तियों की सहायता, व्यवसायिक शिक्षा आदि गतिविधियों में यूनिट के विद्यार्थियों का विशेष योगदान हो सकता है। डॉ जयप्रकाश ने सात दिवसीय गतिविधियों के बारे में प्रकाश डाला और शिविर में भाग लेने वाले विद्यार्थियों ने साक्षरता मिशन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की सफाई, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की रंग-रोगन, राजकीय विद्यालय में पौधारोपण, दिव्यांग विद्यार्थियों की पहचान, गांव के लोगों की स्वास्थ्य जांच में सहायता, गलियों की सफाई आदि कार्य किए। उन्होंने ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों का भविष्य में भी पनिहारी गांव में आयोजन किया जाएगा।

विशिष्ट अतिथि डॉ.शमीम शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि समाज सेवा ही सबसे बड़ी पूंजी है मनुष्य को केवल अपने लिए ही न सोच कर समाज की भलाई के लिए भी सोचना चाहिए उन्होंने कहा कि ऐसे ही समाज सेवा भावना, समाज को जागृत करना समाज सेविकाओं का मुख्य काम होता है। राष्ट्रीय सेवा की एकमात्र उद्देश्य युवा छात्रों को सामुदायिक सेवा देने में अनुभव प्रदान करता है युवाओं को विचारों में परिवर्तन कर मानव धर्म का पालन करना चाहिए। डॉ शमीम शर्मा व अन्य अतिथियों द्वारा केक का केक काटकर नव वर्ष का स्वागत किया गया।

मुख्य अतिथि अतिरिक्त उपायुक्त श्री आमना तस्नीम ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि बिना किसी भेदभाव एवं निस्वार्थ भावना से की गई समाज की सेवा सर्वोत्तम कर्म है। आज के युवाओं में समाज सेवा की भावना होना अति अनिवार्य है समाज कल्याण के लिए किए गए काम कभी भी निरर्थक नहीं होते। उन्होंने आह्वान किया कि लोगों को जागरूक करें और समाज में फैली कुरीतियों जैसे नशा, पराली ना जलाने, कन्या भ्रूण हत्या आदि जैसी कुरीतियों के प्रति लोगों को अधिक से अधिक जागरूक किया जाए, उन्होंने कहा कि पर्यावरण का भी विशेष ध्यान रखा जाए व जल सरंक्षण के मिशन को आगे बढ़ाएं। सिरसा जिले में आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग के अधिकतर छात्र हैं उनको सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं एवं विशेषकर छात्रवृत्तियों के प्रति जागरूक रहे और इंटरनेट का अधिक से अधिक प्रयोग करें। छात्रों में विद्यार्थी जीवन में आत्मविश्वास का होना अति अनिवार्य है। उन्होंने विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।

इस कार्यक्रम के अंत गांव पनिहारी के पूर्व सरपंच एवं समाजसेवी श्री शमशेर सिंह ने आए हुए अतिथियों का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि विद्यापीठ के विद्यार्थियों ने बड़े अनुशासन में रहकर इन 7 दिनों में समाज कल्याण के लिए कार्य किये हैं उसके लिए पूरा गांव उनका आभारी रहेगा। सात दिवसीय शिविर कार्यक्रम अधिकारी डॉ सत्यनारायण की देखरेख में किया गया।

No Comments
Post a Comment
Name
E-mail
Website