Expert Lecture on Menstruation Health organized by Women Cell – JCD PG College of Education, Sirsa

शिक्षण महाविद्यालय की वूमन सेल द्वारा विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन
छात्राओं को मासिक धर्म विषय पर डॉ. गार्गी मुंजाल द्वारा प्रदान की गई विस्तृत जानकारी

जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित शिक्षण महाविद्यालय की वूमन सेल द्वारा महिला शिक्षकों एवं छात्राओं हेतु एक विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य वक्ता के तौर पर जेसीडी अस्पताल से स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ.गार्गी मुंजाल ने उपस्थित होकर छात्राओं को सत्त मासिक धर्म विषय पर विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की तथा इससे होने वाली परेशानियों एवं इस दौरान स्वस्थ रहने के उपाय भी बताए। इस अवसर पर शिक्षण महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.जयप्रकाश, डॉ.राजेन्द्र कुमार के अलावा कॉलेज महिला सेल की प्रभारी डॉ.निशा, डॉ.सुषमा, डॉ.कंवलजीत कौर, डॉ.पुष्पा देवी व बी.एड. एवं एम.एड. कोर्स की छात्राएं उपस्थित रही।

इस मौके पर सभी को संबोधित करते हुए डॉ.गार्गी मुंजाल ने कहा कि महिलाओं पर अनेक प्रकार की जिम्मेवारियां होती है इसीलिए उन्हें अपने स्वास्थ्य का खास तौर से ध्यान रखना चाहिए तथा पीरियड के दौरान उन्हें अनेक प्रकार की सावधानियों को ध्यान में रखते हुए अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें ताकि वह अनेक प्रकार के संक्रमण से बच सकें। डॉ. गार्गी ने बताया कि औरत के प्रजनन अंगों में होने वाले बदलावों के आवर्तन चक्र को माहवारी चक्र कहते हैं। यह हॉरमोन तन्त्र के नियन्त्रण में रहता है एवं प्रजनन के लिए जरूरी है। माहवारी चक्र की गिनती रूधिर स्राव के पहले दिन से की जाती है क्योंकि रजोधर्म प्रारम्भ का हॉरमोन चक्र से घनिष्ट तालमेल रहता है। माहवारी का रूधिर स्राव हर महीने में एक बार 28 से 32 दिनों के अन्तराल पर होता है। उन्होंने कहा कि इस दौरान होने वाली पीड़ा एवं कष्ट के लिए सभी को निरंतर व्यायाम एवं योग करना चाहिए तथा उचित परामर्श लेकर खान-पान एवं साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए ताकि अधिक पीड़ा एवं परेशानी न हो।

इस अवसर पर जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम शर्मा ने कहा कि हमारा उद्देश्य हमारी छात्राओं को बेहतर शिक्षा के साथ-साथ उनके स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी प्रदान करवाना भी है इसीलिए समय-समय पर विशेषज्ञों द्वारा महिलाओं में होने वाली बीमारियों एवं अन्य जागरूकता सम्बन्धी जानकारियां उपलब्ध करवाई जाती है ताकि वे अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रह सकें। उन्होंने कहा कि आज के इस व्याख्यान के विषय की जानकारी छात्राओं को प्रदान करना बहुत ही अनिवार्य था इसलिए इसका आयोजन किया गया है।

डॉ.शर्मा ने बताया कि डॉ.गार्गी मुंजाल की रोजाना ओपीडी भी जेसीडी अस्पताल में प्रारंभ की गई हैं जहां पर स्टॉफ सदस्य एवं छात्राओं के लिए विशेष छूट प्रदान करके ईलाज की सुविधा मुहैया करवाई गई है।कार्यक्रम के अंत में डॉ.गार्गी मुंजाल को शिक्षण महाविद्यालय से डॉ.जयप्रकाश, डॉ.राजेन्द्र कुमार एवं महिला सेल के प्रभारी व अन्य द्वारा स्मृति चिह्न प्रदान करके उनका आभार प्रकट किया गया।