Follow us:-
Extension Lecture for BCA Students – JCD Memorial College
  • By
  • March 30, 2018
  • No Comments

Extension Lecture for BCA Students – JCD Memorial College

जेसीडी मैमोरियल कॉलेज में एक दिवसीय विशेषज्ञ व्याख्यान का आयोजन
सोशल मीडिया जनंसचार का एक सशक्त एवं शक्तिशाली माध्यम : डॉ.दिलबाग सिंह

जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित मैमोरियल कॉलेज के कम्प्यूटर विभाग द्वारा विगत दिवस ‘सोशल मीडिया के सकरात्मक व नकरात्मक उपयोग’ विषय पर एक दिवसीय विशेषज्ञ व्याखयान का आयोजन किया गया, जिसमें चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय सिरसा के कम्पयूटर विभाग के चेयरपर्सन डॉ.दिलबाग सिंह ने मुख्यवक्ता के रूप में शिरकत करके विद्यार्थियों को कम्पयूटर क्षेत्र सम्बन्धी जानकारी प्रदान की गई। वहीं इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कालेज के प्राचार्य डॉ.प्रदीप शर्मा स्नेही द्वारा की गई। कार्यक्रम का संचालन कम्पयूटर विभाग के विभागाध्यक्ष रसप्रीत व मंजु द्वारा सफलतापूर्वक किया गया।

इस मौके पर अपने व्याख्यान में बोलते हुए डॉ.दिलबाग सिंह ने विद्यार्थियों को बताया कि आज के आधुनिक युग में चारों ओर सोशल मीडिया का ही बोलबाला है। देश की दिशा और दशा के निर्धारण में सोशल मीडिया की अहम् भूमिका है। उन्होंने बताया कि जिस प्रकार एक सिक्के के दो पहलू होते है उसी तरह सोशल मीडिया के भी दो पहलू देखने को मिलते है सकारात्मक व नकारात्मक। आज युवा पीढ़ी अपना अधिकतम समय सोशल मीडिया पर ही व्यतीत करती हैै क्योंकि सोशल मीडिया के द्वारा हर काम कुछ ही पलों में कर लिया जाता है। सोशल मीडिया संचार का एक ऐसा शक्तिशाली माध्यम बन चुका है जिसके द्वारा हम दूर बैठे सगे-सम्बधियों से वार्तालाप कर सकते है। सोशल मीडिया ने आज भोगौलिक दूरी को कम कर दिया।

सूचना को सांझा करने के साथ-साथ, समसामयिक मुद्दो की जानकारी भी हमें सोशल मीडिया द्वारा ही मिलती है। आज सोशल मीडिया की बहुत सी ऐप की श्रृखंला देखने को मिलती है जैसे कि फेसबुक, ट्विटर, यू-टयूब व ईंष्टाग्राम आदि के द्वारा हम वीडियो-ऑडियो व टेक्सट का प्रयोग कर सूचना का आदान-प्रदान कर सकते है। जहां सोशल मीडिया का हमें सकारात्मक दृष्टिकोण देखने को मिलता वही हमे नकारात्मक पहलू भी देखने को मिलता है। डॉ.दिलबाग ने सोशल मीडिया के नकारात्मक पहलु पर प्रकाश डालते हुए बताया कि सोशल मीडिया का प्रयोग हर मानव अपनी भावनाओं को सांझा नहीे कर पाता है और मानव के अन्दर एक मानसिक तनाव जैसी बिमारी का वह शिकार हो जाता हैै।

इस अवसर पर कॉलेज के प्राचार्य डॉ प्रदीप स्नेही ने विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि आज सोशल मीडिया का प्रयोग युवा पीढी के द्वारा आवश्यकता से अधिक किया जाता है जिसका सकारात्मक प्रभाव ना होकर नकारात्मक प्रभाव इंगित होने लगता है युवा इस वजह से अपने लक्ष्य से भटक जाते हैं। उन्होंने विद्यार्थियों को सोशल मीडिया के अत्याधिक प्रयोग से होने वाले दुष्प्रभावों से अवगत करवाते हुए इससे बचने का आहृवान किया। वहीं उन्होंने अपने संबोधन में जेसीडी विद्यापीठ के चेयरमैन श्री दिग्विजय सिंह चौटाला, प्रबंधन समन्वयक इंजी.आकाश चावला एवं शैक्षणिक निदेशक डॉ. आर.आर.मलिक का आभार प्रकट किया कि वे समय-समय पर ऐसे आयोजन के लिए अपना मार्गदर्शन प्रदान करके समायोजित सहयोग प्रदान करते हैं।

कार्यक्रम के अंत में कम्पयूटर विभाग की विभागाध्यक्ष रसप्रीत कौर व अन्य प्राध्यापकों द्वारा मुख्यातिथि को स्मृति चिह्न प्रदान किया गया। वहीं इस अवसर पर विभाग के प्राध्यापकगण मंजु, शिल्पी, सुमन, एरिका, अंशु मैहता के अलावा अन्य स्टाफ सदस्य व विभाग के समस्त विद्यार्थीगण भी उपस्थित रहे।