Follow us:-
Launching of Tejaswini Sangam International Award-2021 on the occasion of International Women’s Day
  • By
  • March 6, 2021
  • No Comments

Launching of Tejaswini Sangam International Award-2021 on the occasion of International Women’s Day

जेसीडी विद्यापीठ के प्रांगण में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर तेजस्विनी संगम इंटरनेशनल अवार्ड -2021 का भव्य शुभारंभ

सिरसा 6 मार्च, 2021, जेसीडी विद्यापीठ सिरसा में 6 मार्च से 8 मार्च, 2021 को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर तेजस्विनी संगम इंटरनेशनल अवार्ड 2021 का जेसीडी विद्यापीठ व वूमेन डेडीकेशन पत्रिका के तत्वाधान में किया जा रहा है। तीन दिवसीय शुभारंभ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सिरसा के उपायुक्त श्री प्रदीप कुमार जी व अध्यक्षता जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम शर्मा जी ने की। विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम शर्मा, संस्थान के सभी प्राचार्यगण, विद्यापीठ के कुलसचिव सुधांशु गुप्ता व वूमेन डेडीकेशन पत्रिका के अविनाश फुटेला ने मुख्य अतिथि व अन्य गणमान्य अतिथियों का हार्दिक अभिनंदन किया। डॉ.शमीम शर्मा ने मुख्य अतिथि व अन्य गणमान्य अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि युवा जोश रखने वाले सिरसा के उपायुक्त श्री प्रदीप कुमार जी हौंसलाफजाई के लिए हमारे बीच उपस्थित हैं। उन्होंने कहा कि आज महिलाएं प्रत्येक क्षेत्र में पुरूषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है, जिसका आभास इस कार्यक्रम में महिलाओं की भरपूर प्रस्तुति से चल रहा है। भारत में नारियों को मौलिक अधिकार, मतदान का अधिकार और शिक्षा का अधिकार तो प्राप्त है लेकिन अभी भी स्त्रियां अभावों में जिंदगी बीता रही हैं। हमारे समाज में धीरे-धीरे हालात बदल रहे हैं। आज कोई भी क्षेत्र ऐसा नहीं है जो नारियों से अछूता हो। आज चाहे फिल्म हो, इंजीनियरिंग हो या मेडिकल, उच्च शिक्षा हो या प्रबंधन हर क्षेत्र में स्त्रियां पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं। अब बेटे और बेटी के बीच फर्क घटा है लेकिन अभी भी यह कुछ वर्ग तक ही सीमित है। नारियों के समक्ष खुला आसमान और विशाल धरती है जिस पर वह अनंतकाल तक अपना परचम लहरा सकती है।

मुख्य अतिथि व अन्य अतिथियों ने तेजस्विनी संगम कार्यक्रम में इंद्रधनुषी मेला‚ उपयोगी वस्तुओं की प्रदर्शनी‚ फैशन वॉक‚ ओपन स्टेज टैलेंट शो‚ चटपटे आहार का अवलोकन किया और कार्यक्रम के आयोजन की सराहना की। मुख्य अतिथि श्री प्रदीप कुमार ने संबोधित करते हुए कहा आज के युग में नारी पुरुष से किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है, कई क्षेत्रों में तो पुरुषों से भी आगे निकल कर अपनी प्रतिभा का परिचय दे रही है। सेना में अब तक पुरुष वर्ग का ही वर्चस्व था वहां भी अपने कौशल व साहस के दम पर अपने मुकाम हासिल कर रही है इसलिए इस नारी शक्ति को तहे दिल से शत-शत नमन है। यह उत्सव महिलाओं का सम्मान के लिए मनाया जा रहा है जिसमें हम सभी की शुभकामनाएं सम्मिलित है। भारतीय संस्कृति में नारी के सम्मान को बहुत महत्व दिया गया है। शुभारंभ अवसर के अंत मुख्य अतिथि द्वारा अपने क्षेत्र में विशेष मुकाम हासिल करने वाली महिलाओं को तेजस्विनी संगम अंतरराष्ट्रीय अवार्ड देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर डेंटल कॉलेज के डायरेक्टर डॉ. राजेश चावला, प्राचार्य डॉ. अरिंदम सरकार, डॉ. जयप्रकाश, डॉ.कुलदीप सिंह, डॉ. दिनेश कुमार गुप्ता, डॉ. अनुपमा सेतिया, डॉ. शिखा गोयल व विद्यापीठ के रजिस्ट्रार सुधांशु गुप्ता के अलावा अन्य अधिकारीगण प्राध्यापकगण व समस्त छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।मुख्य अतिथि ने संबोधित करते हुए कहा कि जिस परिवार जिस समाज और जिस देश का नेतृत्व महिला करती है वही तरक्की करता है इसीलिए शुरुआत स्वयं से ही करें अगर आप अपने परिवार की महिला को सम्मान देते हैं आजादी देते हैं वही परिवार और समाज प्रगति करता है मुख्य अतिथि ने अपने परिवार की अपनी महिलाओं विशेषकर मां और पत्नी का उदाहरण देकर उपस्थित महिलाओं को प्रेरित किया मुख्य अतिथि ने अपने संबोधन में कहा कि समाज और परिवार में हर महिला को सम्मान मिलना चाहिए और यह शुरू हमें स्वयं अपने परिवार और समाज से करना चाहिए एक महिला ही अपने घर के घर के प्रत्येक सदस्य के सदस्य की रुचि जरूरत एवं स्वभाव को भलीभांति समझती है इसलिए घर के प्रत्येक फैसले मैं उनकी अहम भूमिका होनी चाहिए महिला दिवस के अवसर पर यही सोच अगर हम सच्चे मन से वह श्रद्धा से ग्रहण करें तो पूरे समाज में बदलाव जरूर आएगा महिलाएं हर चुनौती को तहे दिल से स्वीकार करती हैं इसलिए उन्हें प्रगति करने का हर अवसर प्रदान करना चाहिए