Valedictory Function of M-Festo 2020 – JCD IBM College, Sirsa

जेसीडी आईबीएम कॉलेज में दो दिवसीय ‘एमफेस्टो-2020 का फैशन-शो के साथ समापन
लक्ष्य का निर्धारण करके उसे प्राप्त करने का प्रयास करें विद्यार्थी : डॉ.रमेश चन्द्र

जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित बिजनेस मैनेजमेंट कॉलेज में दो दिवसीय मैनेजमेंट फेस्ट ‘एमफेस्टो-2020 का वीरवार को विधिवत् समापन हुआ, जिसमें बतौर मुख्यातिथि सिरसा के उपायुक्त डॉ. रमेश चन्द्र बिधान ने शिरकत की। वहीं विशिष्ट अतिथि के तौर पर अतिरिक्त उपायुक्त श्रीमती मनदीप कौर उपस्थित रही। कार्यक्रम की अध्यक्षता जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम शर्मा द्वारा की गई। वहीं इस मौके पर उनके साथ कॉलेज के प्राचार्य डॉ.कुलदीप सिंह, जेसीडी विद्यापीठ के डेन्टल कॉलेज के निदेशक डॉ.राजेश्वर चावला व विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्य डॉ.जयप्रकाश, डॉ.राजेन्द्र कुमार, डॉ.अरिन्दम सरकार, डॉ.दिनेश कुमार गुप्ता, डॉ.अनुपमा सेतिया के साथ-साथ इस कार्यक्रम के प्रायोजक भी उपस्थित रहे।

इस अवसर पर डॉ.कुलदीप सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि मैनेजमेंट फेस्ट ‘एमफेस्टो-2020 से इस नयी और युवा पीढ़ी को प्रेरणा देना है कि वो एक बेहतर कल के लिए पहले से ज्यादा मजबूत हो सके और बुराइयों से लड़ सकें। उन्होंने कहा कि इस दो दिवसीय फेस्ट की सबसे खास बात यह रही कि इसके आयोजक और प्रायोजक दोनों ही विद्यार्थी थे। मैनेजमेंट फेस्ट कार्यक्रम में फैशन शो और बेटी बचाओ के संदेश पर आधारित प्ले आकर्षण का केंद्र रहा।

बतौर मुख्यातिथि डॉ.रमेश चंद्र बिधान ने अपने सम्बोधन में विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रतियोगिताएं टीम भावना, सहभागिता और छिपे हुए हुनर को उभारने का कार्य करती है। विद्यार्थियों को जीवन में अपना लक्ष्य निर्धारित करके प्रत्येक दिन उस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कोशिश करनी चाहिए क्योंकि छोटी कोशिश से ही बड़ा मुकाम हासिल होता है। उन्होंने कहा कि आप सभी अपने अपने जीवन के लक्ष्य प्राप्त करने के लिए आगे बढेंगे और जब आप जीवन के एक दौर में आएंगे तो आपका जिम्मेदारियों से सामना होगा। आज आनंद का समय है उन जिम्मेदारियों को ध्यान में रखते हुए आनंद प्राप्त करिए क्योंकि ये मौके जीवन में फिर बहुत मुश्किल से आएंगे। ऐसे आयोजन से विद्यार्थियों में रचनात्मकता एवं व्यक्तित्व का विकास होता है। इसके लिए उन्होंने जेसीडी विद्यापीठ के प्रयास की सराहना की। वहीं उन्होंने अपने संबोधन में नशे के खिलाफ चिंता व्यक्त करते हुए युवाओं को इस भयानक बीमारी से दूर रहने का आह्वान करने के साथ-साथ नशे का कारोबार करने वालों की गुप्त सूचना प्रदान करने के लिए मोबाईल नंबर भी सांझा किए।

जेसीडी विद्यापीठ की प्रबंध निदेशक डॉ.शमीम शर्मा ने अपने सम्बोधन में विद्यार्थियों से कहा कि आज का युग प्रतिस्पर्धात्मक है। इसमें केवल शैक्षणिक योग्यता होना ही पूर्ण नहीं है इसलिए इस प्रकार के आयोजन विद्यार्थियों में अन्य क्षेत्रों में भी निपुण बनाने का कार्य करते है। जिस तरह से विद्यार्थी इस फेस्ट के माध्यम से अपनी खूबियों को निखार पाते हैं वह अद्वितीय है। उम्मीद करते हैं कि वर्ष 2020 जितना अच्छा हुआ है वर्ष 2021 इससे और भी बेहतर होगा। जेसीडी विद्यापीठ हमेशा से ही विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन करता रहता है ताकि इससे विद्यार्थियों को स्वयं के अनुभव द्वारा बेहतर प्रबंधन के गुर सिखाएं जा सकें।

अतिरिक्त उपायुक्त श्रीमती मनदीप कौर ने अपने सम्बोधन में विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि विद्यार्थी जीवन में सफलता के लिए अनुशासन और परिश्रम का बडा महत्व होता है और इन दोनों का परिचय आप सभी विद्यार्थियों ने बखूबी से दिया जो आगे चलकर आपके जीवन को सफल बनाने में काफी सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने अनेक सफल व्यक्तियों के जीवन की चर्चा करते हुए कहा कि साहसी लोग हार कर भी जीतने का हौंसला दिलाते हैं जिसको पाकर ही उन्हें कामयाबी प्राप्त हुई है। उन्होंने बताया कि अगर कोई विद्यार्थी किसी प्रतियोगी परीक्षा मे पहली बार में सफल नहीं हुए तो उन्हें घबराना नहीं चाहिए बल्कि पूर्व की अपेक्षा अधिक मेहनत करके कृत संकल्पित बनने का प्रयास करना चाहिए।

इस मौके पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में मुख्य रहे फैशन-शो में मि.एम फेस्टो दीपक तथा मिस.एमफेस्टो अमन को चुना गया, वहीं राजकीय नैशनल कॉलेज के मनिन्द्र सिंह को मि.ईव चुना गया। इस कार्यक्रम की अन्य प्रतियोगिताओं के विजेताओं में एकल डांस में नैशनल कॉलेज की रजनी व विपीन ने क्रमश: प्रथम एवं द्वितीय तथा जेसीडी डेन्टल की नन्दिनी व राजेन्द्र को तृतीय चुना गया। वहीं जोड़ी नृत्य में जेसीडी मैमोरियल कॉलेज के अर्शदीप व हरप्रीत ने प्रथम तथा नैशनल कॉलेज के अनमोल व शकिला तथा अर्श व ललित ने क्रमश: द्वितीय एवं तृतीय स्थान पाया। उधर गु्रप डांस में अनंत की टीम ने प्रथम, माता हरकी देवी कॉलेज की नैंसी व गु्रप ने द्वितीय स्थान पाया। मेहन्दी रचाओ में नैशनल कॉलेज के नरेन्द्र ने प्रथम, जेसीडी इंजी. कॉलेज की ज्योति ने द्वितीय तथा सीएमके की नेहा ने तृतीय स्थान पाया। दस्तार प्रतियोगिता में नैशनल कॉलेज के सरबजीत सिंह ने प्रथम व मनजीत सिंह ने द्वितीय स्थान अर्जित किया। तड़ा विदाऊट फायर में डेन्टल कॉलेज की नैना ने प्रथम, नैशनल कॉलेज की सृष्टि ने द्वितीय तथा शिक्षण महाविद्यालय की शालू ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। नाखून सज्जा में मैमोरियल कॉलेज के शगुन ने प्रथम तथा माता हरकी देवी कॉलेज की दिक्षिता ने द्वितीय स्थान पाया। हेयर स्टाईल में जेसीडी बीएड की गजल ने प्रथम व मैमोरियल की हेमप्रभा ने द्वितीय स्थान पाया। लैमन रेस में सीएमके की सोनिया ने प्रथम व मैमोरियल कॉलेज की रितिका ने द्वितीय स्थान हासिल किया। सेक रेस में आईबीएम के कमल रेलन ने प्रथम, सीएमके की सोनिया ने द्वितीय स्थान हासिल किया। धीमी स्कूटी रेस में मैमोरियल के राहुल ने प्रथम तथा आईबीएम के रजत ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। नुक्कड़ नाटक प्रतियोगिता में नैशनल कॉलेज की टीम प्रथम रही तथा सीडीएलयू की टीम ने द्वितीय स्थान अर्जित किया।

बॉक्स क्रिकेट प्रतियोगिता में जेसीडी आईबीएम के गौरव कंबोज की टीम ने बाजी मारी। प्रश्रोत्तरी प्रतियोगिता में मैमोरियल कॉलेज की टीम प्रथम व नैशनल कॉलेज की टीम द्वितीय रही। वाद-विवाद प्रतियोगिता में नैशनल कॉलेज की टीम ने प्रथम, जेसीडी डेन्टल कॉलेज की टीम ने द्वितीय तथा जेसीडी मैमोरियल कॉलेज की टीम ने तृतीय स्थान पाया। वहीं गु्रप डिस्कशन में डेन्टल का संदीप प्रथम, नैशनल कॉलेज का रूबल वर्मा द्वितीय एवं आईबीएम का सुरेन्द्र सिंह तृतीय रहा। कविता पाठ प्रतियोगिता में नैशनल कॉलेज की हर्शिता ने प्रथम, डेन्टल कॉलेज की ज्योति ने द्वितीय, सीएमके कॉलेज की ज्योति ने तृतीय तथा नैशनल कॉलेज की कनिष्का को सांत्वना पुरस्कार प्रदान किया गया।