Follow us:-
Visit of Experts from Canada
  • By Davinder Sidhu
  • November 28, 2023
  • No Comments

Visit of Experts from Canada

विद्यार्थियो को कनाडा के लिए नए नए कौशल के साथ उच्च अनुभव जरूरी : के वी राठी
उचित प्रबंधन की जीवन को देता है सही दिशा : प्रोफेसर ढींडसा

सिरसा 22 नवंबर 2023 : जननायक चौधरी देवीलाल विद्यापीठ में स्थित जेसीडी इंस्टीट्यूट आफ बिजनेस मैनेजमेंट में “एमबीए के बाद जीवन” पर एक विशेषज्ञ का आयोजन किया गया। इस व्याख्यान कार्यक्रम में एडवाइजरी बोर्ड इंडो कनाडा चैंबर ऑफ़ कॉमर्स के सदस्य डॉ. के वी राठी मुख्य वक्ता के तौर पर मौजूद रहे जिसमें बीबीए और एमबीए के सभी छात्रों ने भाग लिया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जेसीडी विद्यापीठ के महानिदेशक एवं अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वैज्ञानिक प्रोफेसर डॉ. कुलदीप सिंह ढींडसा ने भी शिरकत की। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कॉलेज प्राचार्या डॉ. हरलीन कौर द्वारा की गई।

डॉक्टर ढींडसा ने कहा कि समय-समय पर विशेषज्ञों को बुलाकर विद्यार्थियों को उनसे रूबरू करवाना व विद्यार्थियों का उनसे सवाल करना अति आवश्यक है। उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए बताया कि एक संतुष्ट व्यक्ति ही जीवन में खुश रह सकता है और दूसरों को खुशी बांट सकता है एवं निरंतर उन्नति के पथ पर अग्रसर रहता है और उचित प्रबंधन की जीवन को सही दिशा देता है

उन्होंने मुख्य वक्ता के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि कर्मवीर राठी कनाडा-भारत व्यापार संबंधों पर एक अग्रणी प्राधिकारी हैं, कनाडा-भारत व्यापार गलियारे में एक प्रमुख और सफल सलाहकार हैं। उनकी कंसल्टेंसी, राठी एंड एसोसिएट्स, भारतीय कंपनियों को कनाडा में और कनाडाई कंपनियों को भारत में व्यापार करने में सहायता करती है। के वी राठी नई दिल्ली के सेंट स्टीफंस कॉलेज से अर्थशास्त्र (ऑनर्स) में स्नातक, हरियाणा में जन्मे पूर्व वरिष्ठ सिविल सेवक, जो दिल्ली के नगर आयुक्त और साठ के दशक के अंत में दिल्ली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष रहे दिवंगत के.एल. राठी के बेटे हैं। के वी (काम) राठी ने कनाडा की अग्रणी कानून फर्मों में से एक, ब्लेक, कैसल्स और ग्रेडन, एलएलपी के लिए भारत में विशेष सलाहकार के रूप में काम किया है। कनाडा जाने से पहले, उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय (1969) में कानून की पढ़ाई की, दिल्ली बार काउंसिल (1970) में भर्ती हुए और 1984 में भारत के सर्वोच्च न्यायालय के बार में भर्ती हुए। वर्तमान में वह राठी एंड एसोसिएट्स, कंसल्टेंट्स इंटरनेशनल के अध्यक्ष और सीईओ भी हैं।

इस कार्यक्रम के मुख्य वक्ता डॉ. के वी राठी ने अपने जीवन के अनुभव साझा करते हुए विद्यार्थियों से कहा आज की तेज़-तर्रार दुनिया में, सफलता सिर्फ यह नहीं है कि आप क्या जानते हैं, बल्कि यह है कि आप कितनी जल्दी अनुकूलन कर सकते हैं और सीख सकते हैं।जैसे-जैसे उद्योग तेजी से विकसित होते हैं, परिवर्तन को अपनाने और रचनात्मक समाधान उत्पन्न करने की क्षमता सर्वोपरि हो जाती है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि ज्ञान की खोज एमबीए के साथ समाप्त नहीं होनी चाहिए बल्कि एक सतत यात्रा होनी चाहिए। स्नातकों से उद्योग के रुझानों के बारे में सूचित रहने, पेशेवर विकास में निवेश करने और अपने करियर में आगे रहने के लिए नए कौशल हासिल करने का आग्रह किया गया। उन्होंने कहा कि कनाडा में नौकरी के अवसर प्राप्त करने के लिए इंग्लिश के साथ साथ फ्रेंच लैंग्वेज में महारत हासिल करनी चाहिए और आप जिस भी क्षेत्र में जाना चाहते हो , आपको उस क्षेत्र में उच्च अनुभव प्राप्त होना चाहिए। जेसीडी विद्यापीठ के जन संपर्क अधिकारी डॉक्टर जय प्रकाश ने उन्हें जेसीडी विद्यापीठ के सभी कॉलेजेस का दौरा भी करवाया । इस दौरान मेमोरियल कॉलेज में भी प्राचार्या डॉ. शिखा गोयल ने हरा पौधा देकर उनका स्वागत किया । इस दौरान विद्यार्थियों के साथ इंटरैक्शन करते हुए उन्होंने कहा कि हमें सफलता के लिए जीवन में दो सिद्धांतों पर हमेशा अमल करना चाहिए। पहला हमें नसीब में जो मिला है उसको साहस पूर्वक ग्रहण करना चाहिए और दूसरा हमें मिले हुए अवसर को स्वीकार कर जीवन में आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने जेसीडी विद्यापीठ के अनुशासन और साफ सफाई के लिए भूरी भूरी प्रशंसा की। कार्यक्रम के अंत में मुख्य वक्ता को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।