Celebration of Independence Day 2018 at JCDV

जेसीडी विद्यापीठ में 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर किया गया ध्वजारोहण
होनहार छात्राओं द्वारा फहराया गया राष्ट्रीय ध्वज, सभी ने धूमधाम से मनाया आजादी का पर्व

72nd Independence Day was celebrated at JCD Vidyapeeth by hoisting the flag In this program, Principal of JCD Teaching College, Dr. Jai Prakash and Registrar of JCD Vidyapeeth, Shri Sudhanshu Gupta were present as the chief guest. The program was flagged off by the promising students of the JCD Vidyapeeth.

जेसीडी विद्यापीठ में 72वें स्वतन्त्रता दिवस को ध्वजारोहण करके मनाया गया। इस कार्यक्रम में जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.जयप्रकाश एवं जेसीडी विद्यापीठ के रजिस्ट्रार श्री सुधांशु गुप्ता बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। वहीं इस कार्यक्रम का ध्वजारोहण जेसीडी विद्यापीठ की होनहार छात्राओं द्वारा किया गया। इस मौके पर जेसीडी विद्यापीठ के विभिन्न कॉलेजों के प्राचार्यगण डॉ.कुलदीप सिंह, डॉ.दिनेश कुमार गुप्ता, डेन्टल के वाईस प्रिंसीपल डॉ.अरिंदम सरकार के अलावा अन्य अधिकारीगण एवं गणमान्य लोगों के अलावा सभी सफाई कर्मचारी, सिक्योरिटी गॉर्ड, मॉली तथा छात्रावास के छात्र-छात्राओं के अलावा संस्थान में रहने वाले सभी कर्मचारियों-अधिकारियों द्वारा तिरंगे को सैल्यूट किया गया तथा इस पावन पर्व को मनाया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन जेसीडी विद्यापीठ के स्पोर्ट्स अधिकारी अमरीक सिंह गिल एवं मैनेजर लोजिस्टिक महेन्द्र प्रताप सिंह की देखरेख में किया गया।

इस मौके पर डॉ.जयप्रकाश एवं श्री सुधांशु गुप्ता ने सर्वप्रथम सभी को 72वें स्वतन्त्रता दिवस की बधाई देते हुए कहा कि हमें यह आजादी लंबे संघर्ष के पश्चात् प्राप्त हुई है तथा इसमें हमारे अनेक शहीदों ने बलिदान दिया है। इस मौके पर महात्मा गांधी, शहीद भगत सिंह, मंगल पांडें, रानी लक्ष्मीबाई, सुभाष चंद्र बोस, सरोजिनी नायडू तथा ऐसे ही 100 से अधिक शहीदों को श्रद्धांजलि भी प्रदान की गई। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि यह आपका सौभाग्य है कि आप एक ऐसे संस्थान में शिक्षा हासिल कर रहे है, जो चौ.देवीलाल जी के नाम से है जो स्वयं एक स्वतंत्रता सेनानी थे तथा जिन्होंने आजादी की लड़ाई लड़ी और अंग्रेजों से लोहा लिया तथा अनेक बार जेल भी गए। उन्होंने कहा कि चौ.देवीलाल जी का सपना था कि वे सिरसा जैसे शिक्षा में पिछड़े इलाके में शिक्षा की अलख जगा सकें तथा इसीलिए उन्होंने सिरसा में चौ.देवीलाल विश्वविद्यालय एवं जेसीडी विद्यापीठ की स्थापना करवाई ताकि यहां के विद्यार्थी राष्ट्र स्तर पर अपनी पहचान कायम कर सकें।

डॉ.जयप्रकाश ने कहा कि आपका कर्म और धर्म बेहतर से बेहतर शिक्षा हासिल करना है, इसलिए आप इसमें लग जाएं और कड़ी मेहनत एवं ईमानदारी के साथ इसे पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि किसी भी काम में अगर कर्तव्यनिष्ठा, ईमानदारी, कर्मठता, लगन, सेवाभाव, सौहार्द इत्यादि गुणों को ध्यान में रखते हुए किया जाए तो उसमें सफलता अवश्य मिलती है। यह हम सभी का सौभाग्य है कि आज हम लोग एक साथ मिलकर अपनी स्वतन्त्रता का यह महान दिवस मना रहे हैं। उन्होंने इस कार्यक्रम के सफलतम आयोजन के लिए सभी अधिकारियों, कर्मचारियों तथा विद्यार्थियों व अन्य का आभार प्रकट किया। डॉ.जयप्रकाश ने कहा कि बेटियों द्वारा ध्वजारोहण के कारण अनेक बेटियों को आगे बढऩे की प्रेरणा हासिल होगा जो कि एक सराहनीय कार्य होगा।

इस मौके पर कार्यक्रम का मंच संचालन जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के प्रोफेसर डॉ.राजेन्द्र कुमार द्वारा किया गया।

JCDV Quiz