Follow us:-
Police Tightened its Grip on Drug Smugglers
  • By Davinder Sidhu
  • December 13, 2023
  • No Comments

Police Tightened its Grip on Drug Smugglers

पुलिस ने नशा तस्करों पर कसा शिकंजा – डाॅ. ढींडसा

सिरसा 10 दिसंबर 2023: अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वैज्ञानिक एवं जननायक चौधरी देवीलाल विद्यापीठ सिरसा के महानिदेशक डाॅ. कुलदीप सिंह ढींडसा ने पुलिस सूत्रों को उद्वत करते हुए कहा कि हिसार रेंज पुलिस ने पांच पुलिस जिलों, जिनमें हिसार, सिरसा, फतेहाबाद, जींद और हांसी शामिल हैं, के 219 गांवों में 3,695 नशेड़ियों की पहचान की है।

प्रत्येक जिले में दो महिला पुलिसकर्मियों सहित पांच पुलिसकर्मियों की एक टीम बनाई गई है। ये टीमें नशीली दवाओं से प्रभावित गांवों का दौरा कर रही हैं और घर-घर जाकर सर्वेक्षण कर रही हैं।

पुलिस के सूत्रों के अनुसार अब तक 218 गांवों में 3,695 नशेड़ियों की पहचान की गई है। नशे के आदी लोगों और उनके परिवार के सदस्यों की काउंसलिंग की गई और पुलिस ने 3,423 नशे के आदी लोगों का एक डोजियर तैयार किया। जिनमें से 1,861 नशा पीड़ितों को इलाज मिलना शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि सिरसा में टीमों ने 54 गांवों में 1,081 नशा करने वालों की पहचान की। पुलिस ने अपना डोजियर तैयार कर लिया है और 865 नशेड़ियों का इलाज चल रहा है. पुलिस प्रवक्ता ने दावा किया कि सिरसा जिले के 71 नशेड़ियों को नशे से छुटकारा दिलाया गया है।

डा. ढींडसा ने कहा कि पुलिस सूत्रों के अनुसार हिसार जिले की नशा मुक्ति टीम ने 56 गांवों में 915 नशेड़ियों की पहचान की है। पहचाने गए नशे के आदी लोगों में से 475 को दवाएँ उपलब्ध करा दी गई हैं और अस्पतालों में उनका इलाज शुरू कर दिया गया है। टीम के प्रयासों से हिसार जिले के 120 नशा पीड़ित ठीक हो चुके हैं। हांसी में पुलिस ने 36 गांवों में 447 नशेड़ियों की पहचान की. जबकि 256 पीड़ितों का इलाज चल रहा था, 47 नशीली दवाओं के पीड़ितों का इलाज किया गया था।

इसी प्रकार फतेहबाद जिले में 33 गांवों में 745 नशेड़ियों की पहचान की गई है। जिनमें से 470 नशा पीड़ितों एवं उनके परिवारों को पुलिस टीम द्वारा परामर्श दिया गया तथा 334 नशेड़ियों को उपचार दिया जा रहा है। प्रवक्ता ने कहा कि टीम के प्रयासों के कारण, 133 नशेड़ी नशे की लत से बाहर आ गए हैं और अपने जीवन का पुनर्निर्माण करने की कोशिश कर रहे हैं। जींद जिले में 39 गांवों में 507 नशेड़ियों की पहचान की गई और 70 लोगों को नशे से मुक्ति दिलाइ गई।

डा. ढींडसा ने कहा कि पुलिस के इन प्रयासों की सर्वत्र सराहना हो रही है। विशेषकर गृहणियां पुलिस के प्रति आभार प्रकट कर रही है, जिनके घरों में फिर से खुशियां लौट आई हैं। लोगों का कहना हैं कि अतिरिक्त महानिशेदक पुलिस श्रीकान्त जाधव के अथक प्रयासों से ही नशा तस्कर अब हरियाणा से दूसरे प्रदेशों की ओर पलायन कर रहे है।