Follow us:-
Valedictory Function of Teaching Practice – 23/12/2017
  • By
  • December 23, 2017
  • No Comments

Valedictory Function of Teaching Practice – 23/12/2017


जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के विद्यार्थियों का शिक्षण अभ्यास सत्र का विधिवत् समापन
विभिन्न स्कूलों में आयोजित हुआ शिक्षण अभ्यास,नवीनतम एवं आधुनिक जानकारियों से करवाया अवगत

सिरसा 23 दिसम्बर,2017 : जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के बी.एड.के विद्यार्थियों का एक शिक्षण अभ्यास सत्र विगत 1 दिसम्बर से 23 दिसम्बर 2017 तक राजकीय उच्च विद्यालय,पनिहारी,राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय फरवाई कलां व सागर मणि हाई स्कूल,सिरसा इत्यादि स्कूलों में आयोजित किया गया,जिसमें छात्र अध्यापकों ने स्कूली छात्र-छात्राओं को पढ़ाकर शिक्षण के गुर सीखे। इस शिक्षण अभ्यास सत्र का विधिवत् रूप से शनिवार को विभिन्न स्कूलों में समापन सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ हुआ। इस मौके पर स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ-साथ छात्र अध्यापक एवं अध्यापिकाओं ने भी अपनी प्रस्तुति दी। इन सभी कार्यक्रमों में जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.जयप्रकाश ने बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। इस मौके पर पूर्व सरपंच श्री शमशेर सिंह गुप्ता विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित हुए,वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता विद्यालयों के प्राचार्यों द्वारा की गई।

बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.जय प्रकाश ने सर्वप्रथम सभी को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं प्रदान की। उन्होंने छात्र अध्यापक एवं अध्यापिकाओं को कहा कि वे स्कूलों में प्राप्त हुए अपने अध्यापन सम्बन्धी नवीनतम तथा आधुनिक विधियों को अध्यापक लगने पर विभिन्न स्कूलों में अवश्य प्रयोग करें ताकि उनके शिक्षण कार्य में और अधिक गुणवत्ता आ सके। डॉ.जयप्रकाश ने कहा कि अध्यापक होने के नाते उनका कर्तव्य बनता है कि वे बच्चों के सर्वांगीण विकास पर पूरा ध्यान दें। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार आप सभी को जेसीडी विद्यापीठ में अनुशासित, उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षा एवं नैतिक एवं सामाजिक गुण प्रदान किए गए हैं,आप उन्हें इसी प्रकार अपने विद्यार्थियों में भी निहित करेंगे और उन्हें बेहतर नागरिक बनाने में अपना सम्पूर्ण योगदान देंगे। उन्होंने सभी स्कूलों के मुख्याध्यापकों एवं प्रशासन का आभार प्रकट किया क्योंकि उनके सहयोग से ही इस शिक्षण अभ्यास को सफलतम पूर्ण करवाया गया है।

इस मौके पर पूर्व सरपंच श्री शमशेर सिंह गुप्ता एवं नरेश कुमार गुप्ता ने कहा कि छात्र अध्यापकों ने विद्यालय के विद्यार्थियों को बहुत ही रूचि के साथ पढ़ाया तथा आधुनिक एवं नवीनतम जानकारियां प्रदान की,जिससे छात्र-छात्राओं को काफी कुछ नया सीखने को मिला है तथा इससे विद्यार्थीयों की शिक्षा में सुधार होगा।

वहीं इस अवसर पर सागर मणि हाई स्कूल की प्राचार्या श्रीमती वीणा पाहूजा ने अपने संबोधन में सर्वप्रथम जेसीडी विद्यापीठ प्रबंधन का आभार प्रकट किया कि वे हर प्रकार से स्कूलों को सहयोग प्रदान करते रहते हैं, वहीं उन्होंने शिक्षण अभ्यास में आए हुए भावी शिक्षकों की भी सराहना की तथा उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि भावी शिक्षकों ने अपने शिक्षण अभ्यास के दौरान पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य किया है तथा विद्यार्थियों को उचित मार्गदर्शन प्रदान करते हुए उन्हें शिक्षा प्रदान करवाई है जो सराहनीय है।

इस मौके पर छात्र अध्यापकों द्वारा अपना प्रदर्शन के माध्यम पर राजकीय हाई स्कूल पनिहारी में पंजाबी शिक्षण में रचना,गणित शिक्षण में अविनाश,अंग्रेजी शिक्षण में इन्दू,हिन्दी शिक्षण में मनजीत कौर,सामाजिक अध्ययन में विनोद कुमार एवं अन्य विषयों में सुमन,सोनिका,प्रदीप,पूजा,हरप्रीत एवं सुरभि को सम्मानित किया गया,वहीं शिक्षण सामग्री के बेहतर प्रयोग के लिए सुनीता,सुरभि,पूनम व रीटा को सम्मानित किया गया। सागर मणि हाई स्कूल,सिरसा में विजय लक्ष्मी व कर्मजीत को सर्वश्रेष्ठ छात्र अध्यापक,निकिता शेखावत व सपना सिंह को सर्वोत्तम अभ्यास पुस्तिका व लक्ष्मी को सर्वोत्तम श्याम पट्ट लेखन तथा पुनीता को अनुशासन कायम रखने हेतु चयनित किया गया। वहीं राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय फरवाई कलां में सिमरजीत कौर,लक्ष्मी,रेणु,मोहित कुमार,हनुमान,पंकजप्रीत,शक्ति,अमनदीप,रितू,उपासना,गगनदीप व लक्ष्मी को बेहतर प्रदर्शन हेतु बी.एड.जनरल में तथा नवदीप कौर,नवनीत कौर एवं सुशील कुमार को स्पैशल बी.एड. के लिए चुना गया।

विद्यार्थियों के इस शिक्षण अभ्यास के समापन अवसर पर विद्यार्थियों को अपना आशीर्वाद एवं शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए जेसीडी विद्यापीठ के प्रबंधन समन्वयक इंजी.आकाश चावला एवं डॉ.आर.आर.मलिक ने कहा कि हमारा उद्देश्य हमारे विद्यार्थियों को बेहतर ज्ञान के साथ-साथ उन्हें बेहतर सीखने हेतु सदैव प्रयास करते रहते हैं,जिसमें यह शिक्षण अभ्यास भी एक अह्म प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से भावी शिक्षकों को शिक्षण के गुर सीखने को मिलते हैं जो आगे चलकर इन्हें काफी लाभ प्रदान करते हैं।

इस अवसर पर जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के प्रवक्ता डॉ.रमेश शर्मा,श्रीमती पुष्पा देवी,श्रीमती सुषमा रानी,डॉ.सुषमा रानी,मि.ललित गिरधर,मि.राजेन्द्र कुमार,मि.बलविन्द्र सिंह,श्रीमती कंवलजीत कौर के अलावा अन्य प्रवक्तागणों के अलावा अनेक गांव के गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे।